ट्रेंडिंगमनोरंजन

करण जौहर पहुंचे बॉम्बे हाईकोर्ट ,जानें क्या है पूरा मामला

मुंबई –बॉलीवुड फिल्ममेकर करण जौहर ने शुक्रवार को रिलीज होने वाली फिल्म ‘शादी के डायरेक्टर करण और जौहर’ के मेकर्स के खिलाफ बॉम्बे हाई कोर्ट में मुकदमा दायर किया है, जिसमें फिल्म के टाइटल में उनके नाम के इस्तेमाल को रोकने की मांग की गई है। करण जौहर ने मुकदमे के लंबित रहने के दौरान फिल्म की रिलीज पर रोक लगाने की तत्काल राहत की मांग करते हुए आवेदन भी दायर किया है। करण जौहर के वकील पराग खंडार ने बताया कि मामले में 13 जून को सुनवाई होगी।

हाई कोर्ट पहुंचे करण जौहर

करण जौहर ने अपने मुकदमे में दावा किया है कि उनका फिल्म से कोई संबंध नहीं है और मेकर्स गैरकानूनी तरीके से उनके नाम का इस्तेमाल कर रहे हैं। यह फिल्म इंडियाप्राइड एडवाइजरी प्राइवेट लिमिटेड की बनाई है और संजय सिंह और बब्लू सिंह के डायरेक्शन में बनी है। ये कथित तौर पर करण जौहर के अधिकारों, प्रचार के अधिकार और प्राइवेसी के अधिकार का उल्लंघन करती है।

क्या है पूरा मामला?

प्रोड्यूसर इंडिया प्राइड एडवाइजरी और संजय सिंह के साथ राइटर-डायरेक्टर बबलू सिंह के खिलाफ उच्च न्यायालय में मुकदमा दायर किया गया है। इस मुकदमे में संजय और अन्य के खिलाफ फिल्म के टाइटल में उनके नाम का इस्तेमाल करने पर हमेशा के लिए रोक लगाने के आदेश की मांग की गई। बॉम्बे हाई कोर्ट में आज के लिए यह मामला लिस्टेड है, और उसपर सुनवाई होनी है।

नाम को हो रहा गलत इस्तेमाल

करण ने अपनी अर्जी में लिखा है कि फिल्म के नाम के जरिए उनका मजाक उड़ाने की कोशिश की गई है। उन्होंने दावा किया कि उनका फिल्म या इसके निर्माताओं से कोई संबंध नहीं है,जो फिल्म के टाइटल में उनके नाम का अवैध रूप से उपयोग कर रहे हैं।

याचिका में क्या कहा

याचिका में कहा गया है कि फिल्म के टाइटल में उनके नाम का इस्तेमाल उनकी प्रतिष्ठा को भुनाने के लिए किया गया है, जो कानून के तहत स्वीकार्य नहीं है। इसमें कहा गया है कि करण जौहर भारत और विश्व स्तर पर एक बड़ी हस्ती हैं। उन्हें करण और जौहर नाम से पहचाना जाता है। वे इसका इस्तेमाल करके, कथित तौर पर उनके नाम का फायदा उठा रहे हैं।

गुडविल और प्रतिष्ठा को पहुंच रहा नुकसान

करण ने अपनी याचिका में ये भी दावा किया कि फिल्म में उनके नाम का इस्तेमाल करके प्रोड्यूसर्स उनकी ‘ब्रांड वेल्यू’, गुडविल और प्रतिष्ठा का गलत फायदा उठा रहे हैं, जो पूरी तरह से गलत है । करण ने कहा कि 14 जून को सिनेमाघरों में रिलीज होने जा रही इस फिल्म के ट्रेलर और पोस्टर सोशल मीडिया पर जारी किए जा चुके हैं, जिनसे उनकी इमेज को नुकसान पहुंच रहा है। उन्होंने इन ट्रेलर और पोस्टर्स को भी हटाने की मांग की है। उन्होंने 14 जून 2024 को रिलीज होने जा रही इस फिल्म पर तुरंत रोक लगाए जाने की मांग की है। अब आज इस मामले पर सुनवाई होनी है।

करण ने की रोक लगाने की मांग

करण जौहर ने डीएसके लीगल के जरिए प्रोड्यूसर इंडिया एडवाइजरी और संजय सिंह के साथ राइटर और डायरेक्टर बबलू सिंह के खिलाफ उच्च न्यायालय में मुकदमा दायर किया है। इस मुकदमे में संजय और अन्य के खिलाफ फिल्म के टाइटल में उनके नाम का इस्तेमाल करने पर हमेशा के लिए रोक लगाने की मांग की गई है। करण ने बताया कि फिल्म का शीर्षक सीधे तौर पर उनके नाम का रेफर कर रहा है,जो उनके व्यक्तिगत अधिकारों,पब्लिसिटी और प्राइवेसी के अधिकारों का उल्लंघन है। उन्होंने जोर देकर कहा कि बिना अनुमति के उनके ‘ब्रांड नाम’ का उपयोग करके फिल्म निर्माता उनकी गुडविल और प्रतिष्ठा का फायदा उठा रहे हैं जोकि बिल्कुल गलत है।

कब रिलीज होगी फिल्म

फिल्म 14 जून, 2024 को रिलीज होने वाली है। याचिका में कहा गया है कि ट्रेलर पहले ही यूट्यूब और इंस्टाग्राम जैसे प्लेटफार्मों पर रिलीज किए जा चुके हैं और पोस्टर पूरे मुंबई में सार्वजनिक क्षेत्रों में दिखा दिए गए हैं। करण जौहर ने तर्क दिया है कि इन हरकतों से वर्षों से उनके काम में बाधा आती रही है और इसे रोका नहीं गया तो ऐसा होता रहेगा।

Back to top button