Big news App
रूस यूक्रेन युद्धविश्व

जो बाइडन की रूस को चेतावनी, बोले- रासायनिक हथियार इस्तेमाल किए तो ‘करारा जवाब मिलेगा’

ब्रसेल्स : रूस और यूक्रेन के बीच लगातार 29वें दिन भी जंग जारी है। पुतिन की सेना जहां आए दिन आक्रामक होती जा रही है वहीं जेलेंस्की भी हथियार डालने के लिए तैयार नहीं हैं। इस संकट पर गुरुवार को नाटो की आपात बैठक हुई। जेलेंस्की ने इस बैठक में नाटो से कहा कि आपको साबित करना चाहिए कि आप लोगों की रक्षा करना चाहते हैं। वहीं, जी-7 देशों ने रूस के सेंट्रल बैंक पर लेन-देन में सोने का इस्तेमाल करने पर रोक लगा दी है। संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) में यूक्रेन की ओर से पेश किए गए प्रस्ताव को अनुमति मिल गई है।

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा है कि अगर रूस यूक्रेन में रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल करता है तो हम जवाब देंगे।अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने ब्रसेल्स में प्रेस को एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि मुझे लगता है कि चीन समझता है कि उसका आर्थिक भविष्य रूस की तुलना में पश्चिम से कहीं अधिक निकटता से जुड़ा हुआ है। मुझे उम्मीद है कि चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग रूस का साथ नहीं देंगे। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन ने ब्रसेल्स में प्रेस को एक सवाल का जवाब देते हुए कहा।

संयुक्त राष्ट्र महासभा (यूएनजीए) में यूक्रेन की ओर से पेश किए गए प्रस्ताव को अनुमति मिल गई है। यूक्रेन ने यह प्रस्ताव रूस के हमले की वजह से उत्पन्न मानवीय संकट को लेकर था। इस प्रस्ताव के समर्थन में 140 और विरोध में पांच वोट पड़े। वहीं, भारत समेत 38 सदस्यों ने मतदान से दूरी बनाए रखी। महासभा ने यूक्रेन में मानवीय संकट के लिए रूस को जिम्मेदार ठहराने वाले प्रस्ताव को मंजूर किया और तत्काल संघर्ष विराम का आग्रह किया।

अमेरिका ने रूस की दर्जनों रक्षा कंपनियों, ड्यूमा विधायी निकाय के 328 सदस्यों और रूस के सबसे बड़े वित्तीय संस्थान स्बेरबैंक के चीफ एग्जीक्यूटिव पर नए प्रतिबंधों का एलान किया है।

download bignews app
Follow us on google news
Follow us on google news

Related Articles

Back to top button