भारतराजनीति

Budget 2024: बजट को लेकर एक्शन में वित्त मंत्री,जानें -क्या होगा केंद्रीय बजट में खास

नई दिल्लीः वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 20 जून को उद्योग मंडलों के साथ बजट पूर्व विचार-विमर्श करेंगी. सूत्रों ने यह जानकारी दी. वित्त वर्ष 2024-25 का बजट जुलाई के दूसरे पखवाड़े में संसद में पेश किए जाने की संभावना है. उद्योग जगत से जुड़े सूत्रों ने बताया कि सीतारमण के साथ बजट पूर्व परामर्श से पहले 18 जून को राजस्व सचिव संजय मल्होत्रा ​​के साथ बैठक होगी.

2047 तक देश को ‘विकसित भारत’ में बदलने के लिए सुधार

आर्थिक एजेंडे में निकट भविष्य में भारत को 5 लाख करोड़ डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने और 2047 तक देश को ‘विकसित भारत’ (Viksit Bharat) में बदलने के लिए तेजी से सुधार लाने के कदम शामिल होंगे. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के अनुमान के अनुसार, ग्रामीण मांग में सुधार और मुद्रास्फीति में नरमी के कारण चालू वित्त वर्ष में भारतीय अर्थव्यवस्था की ग्रोथ रेट 7.2% रहने का अनुमान है.

शुरू हो गई बजट की तैयारी

न्यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार आगामी केंद्रीय बजट 2024-25 की तैयारी 13 जून से शुरू हो गई है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सावधानीपूर्वक योजना और व्यापक विश्लेषण की आवश्यकता पर जोर देते हुए अधिकारियों को बजट तैयारी प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश दिया है।इस बार भी मंत्रालय का लक्ष्य सुव्यवस्थित बजट सुनिश्चित करना है। देश की आर्थिक प्राथमिकताओं और चुनौतियों पर फोकस किया जाएगा। इस बार भी पूरी उम्मीद है कि मंत्रालय की टीम आगामी वित्त वर्ष में एक मजबूत और रणनीतिक वित्तीय योजना में योगदान देगी।न्यूज एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से बताया कि वित्त वर्ष 2024-25 का केंद्रीय बजट जुलाई के तीसरे सप्ताह तक संसद में पेश हो सकता है।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पेश करेंगी अपना सातवां बजट

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जुलाई में अपना सातवां बजट पेश करने वाली हैं. इसके पहले वित्त मंत्री ने 5 पूर्ण और 1 अंतरिम बजट पेश किया है. इसी के साथ वित्त मंत्री निर्मला सीतरमण पूर्व प्रधानमंत्री मोररजी देसाई के लगातार 6 बजट पेश करने का रिकॉर्ड भी तोड़ देंगी.

18 जून को भी होगी एक प्री-बजट बैठक-सूत्र

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण इस समय बजट को लेकर तैयारियों में जुटी हुई हैं. निर्मला सीतारमण जिन्हें एनडीए सरकार में दूसरी बार वित्त मंत्री का पदभार दिया गया है वो जुलाई के दूसरे पखवाड़े में बजट पेश करेंगी. इंडस्ट्री सूत्रों ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया कि वित्त मंत्री के साथ प्री-बजट परामर्श मंगलवार, 18 जून को राजस्व सचिव के साथ एक आधिकारिक बैठक से पहले होगा.

क्या होगा केंद्रीय बजट में खास

-वित्त वर्ष 2024-25 का आम बजट मोदी 3.0 सरकार का आर्थिक एजेंडा पेश करेगा.
-बजट में महंगाई दर को नीचे लाने की कवायद के बीच विकास को बढ़ावा देने के उपायों पर ध्यान दिया जाएगा.
-बजट में एनडीए की गठबंधन सरकार की मजबूरी को ध्यान में रखते हुए नए संसाधनों की तलाश करने पर ध्यान होगा.
-आर्थिक एजेंडे में भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था और 2047 तक 'विकसित भारत' बनाने के लिए तेजी से सुधार के कदमों को शामिल किया जाएगा.

केंद्र सरकार के खजाने में है भरपूर कोष

मोदी 3.0 सरकार को एक मजबूत अर्थव्यवस्था विरासत में मिली है. इसमें खास मुनाफा भी शामिल है क्योंकि आरबीआई ने वित्त वर्ष 24 के लिए 2.11 लाख करोड़ रुपये के अब तक के उच्चतम डिविडेंड का एलान किया था.

Modi 3.0 के पहले बजट में क्या होंगी प्राथमिकताएं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के तीसरे कार्यकाल में खाद्य महंगाई दर को घटाना और बेरोजगारी को कम करना, कृषि क्षेत्र में तनाव से निपटना, रोजगार पैदा करना, कैपिटल एक्सपेंडिचर की रफ्तार को बनाए रखना जैसी पॉलिसी प्राथमिकताएं प्रमुखता से हावी रहेंगी. इन सब चुनौतियों से निपटते हुए राजकोषीय घाटे को काबू पर रखने के लिए रेवेन्यू में बढ़ोतरी के रास्ते पर लगातार आगे बढ़ना होगा.

कब पेश होता है अंतरिम बजट

आम चुनाव या फिर ट्रांजिशन पीरियड के दौरान अंतरिम बजट (Interim Budget) पेश किया जाता है। अंतरिम बजट पेश करने का उद्देश्य सरकारी व्यय और आवश्यक सेवाओं की निरंतरता सुनिश्चित करना है। जब नई सरकार अपना कार्यभार संभालती है तब पूर्ण बजट पेश होता है।फरवरी में पेश हुआ अंतरिम बजट (Interim Budget 2024) में सरकार ने आर्थिक नीतियों पर ध्यान केंद्रित किया था। इसके अलावा सरकार ने 2047 तक भारत को एक विकसित देश बनाने के लक्ष्य को हासिल करने के लिए भी नीतियां बनाई।इस साल लोकसभा चुनाव हुए, जिसकी वजह से फरवरी में पूर्ण बजट पेश नहीं हुआ था। 9 जून 2024 को राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की नई कैबिनेट के रूप में निर्मला सीतारमण ने शपथ ली थी। आपको बता दें कि निर्मला सीतारमण 2014 और 2019 दोनों मोदी कैबिनेट में केंद्रीय मंत्री रही हैं।

निर्मला सीतारमण अपना लगातार सातवां बजट पेश करेंगी

निर्मला सीतारमण लगातार दूसरी बार वित्त मंत्री बनी है। साल 2014 में उन्हें रक्षा मंत्रालय का कार्यभार सौंपा गया था। इस बार वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण अपना लगातार सातवां बजट पेश करेंगी। यह वर्ष 2024-25 का पूर्ण बजट होगा।

Back to top button