x
लाइफस्टाइल

गुनगुने पानी में घी मिलाकर पी ने से सेहत को मिलेंगे ये फायदे-जानें


सरकारी योजना के लिए जुड़े Join Now
खबरें Telegram पर पाने के लिए जुड़े Join Now

नई दिल्लीः घी एक ऐसी चीज है जिसका इस्तेमाल लगभग हर भारतीय घर में किया जाता है. आमतौर पर घी को रोटी और दाल में डालकर खाया जाता है. आपने अक्सर घर के बड़ों से ये सुना होगा कि घी को सेहत के लिए फायदेमंद माना जाता है. लेकिन घी (Ghee Eating Benefits) वाकई में सेहत के लिए फायदेमंद माना जाता है. लेकिन सीमित मात्रा में किया जाए तो. अगर आप जरूरत से ज्यादा घी (Ghee Side Effects) का सेवन करते हैं तो आपको फायदा की जगह नुकसान भी पहुंच सकता है. आपको बता दें कि घी में विटामिन ए, विटामिन डी और विटामिन ई सहित फैट में घुलनशील विटामिन से भरपूर होता है, जो शरीर को कई लाभ पहुंचा सकता है. तो चलिए जानते हैं सुबह खाली पेट घी का कैसे और क्यों (Why Should We Consume Ghee) करें सेवन.

घी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है

महत्वपूर्ण पोषक तत्वों से भरपूर देसी धी सेहत के लिए विभिन्न रूपों में फायदेमंद होती है। बहुत से लोगों को लगता है कि घी के सेवन से वेट गेन होता है, इसलिए लोग इसे अवॉइड करते हैं। हालांकि, यह एक बहुत बड़ा मिथ है। यदि इसे सही तरीके से डाइट में शामिल किया जाए तो यह वेट लॉस में मददगार होने के साथी सेहत को तमाम अन्य फायदे प्रदान कर सकता है। मेरी दादी मां हमेशा से एक गिलास गर्म पानी के साथ एक चम्मच देसी घी मिलाकर पीती हैं। वहीं वे कभी कभार मुझे भी इसे पीने की सलाह देती थीं।

क्या हैं घी के फायदे

पाचन

घी में कई ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो पाचन के लिए काफी अच्छा माना जाता है. आप रोजाना सुबह गुनगुने पानी में घी को डालकर इसका सेवन कर सकते हैं.घी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है. इसका सेवन कई मौसमी बीमारियां से बचाने में मदद करता है.

मोटापा

वजन को घटाने के लिए आप सुबह खाली पेट 2 चम्मच घी को गुनगुने पानी में डालकर पी सकते हैं. इससे फैट को बर्न करने में मदद मिल सकती है.घी एक पौष्टिक फूड भी माना जाता है. इसका इस्तेमाल ठंड में सेहत का ख्याल रखने में मदद करता है.

कॉन्स्टिपेशन की समस्या में है कारगर

कई बार लार्ज और स्माल इंटेस्टाइन ड्राई और रफ हो जाते हैं, जिसकी वजह से खाद्य पदार्थों को पचाना मुश्किल होता है और कांसेपशियन की समस्या हो सकती है। इस स्थिति में गुनगुने पानी के साथ घी लेने से डाइजेस्टिव ट्रैक लुब्रिकेंट हो जाता है, जिससे डाइजेशन भी बेहतर होता है।इसके अलावा यह पाचन प्रक्रिया को भी उत्तेजित करता है, जिससे कि खाद्य पदार्थों को पचाना आसान हो जाता है। वहीं आप इसे कुकिंग ऑयल की जगह इस्तेमाल कर सकती हैं, साथ ही रोटी और परांठे में इसे मिलाकर लेने से भी फायदे मिलेंगे।

त्वचा को बनाए ग्लोइंग और मुलायम

घी में मौजूद प्राकृतिक मॉइश्चराइजिंग प्रॉपर्टी इसे त्वचा के लिए बेहद खास बना देती है। आपके शरीर की अंदरूनी स्थिति आपके बाहरी त्वचा पर नजर आती है। ऐसे में जब आप गुनगुने पानी के साथ घी का सेवन करती हैं, तो यह आपके आतों को पूरी तरह से साफ कर देता है। जब पाचन क्रिया स्वस्थ व संतुलित रहती है, तो बॉडी में टॉक्सिन जमा नहीं होते।देसी घी में कैल्शियम, ओमेगा 3 फैटी एसिड, हेल्दी फैट और विटामिन ए, डी, ई, के जैसे आवश्यक पोषक तत्व मौजूद होते हैं। यह सभी पोषक तत्व बॉडी सेल्स को पूर्ण रूप से स्वस्थ रहने में मदद करते हैं। साथ ही शरीर को पर्याप्त हाइड्रेशन प्रदान करते हैं।इस प्रकार त्वचा पर एक्ने, पिंपल, फाइन लाइंस, रिंकल आदि जैसी समस्याएं नहीं होती, साथ ही त्वचा को मॉइश्चराइज और हाइड्रेट करते हैं, जिससे कि त्वचा ग्लोइंग नजर आती है। इस प्रभावी ड्रिंक को नियमित रूप से खाली पेट लेने की कोशिश करें।

इम्यूनिटी

इम्यूनिटी को मजबूत बनाने के लिए आप सुबह खाली पेट गुनगुने पानी में 2 चम्मच घी डालकर सेवन कर सकते हैं. मजबूत इम्यूनिटी शरीर को कई तरह के संक्रमण से बचाने में मदद कर सकती है.देसी घी बहुत सेहतमंद होता है. इसमें कई प्रकार के गुण होते हैं. जो शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं.

कोल्ड और कप की समस्या में कारगर है

नियमित रूप से गुनगुना पानी में एक चम्मच घी मिलाकर पीने से तमाम प्रकार के संक्रमण से राहत मिलती है। यह नाक, गले और छाती के इन्फेक्शन से राहत प्रदान कर सकता है। खाली पेट घी के सेवन से शरीर को गर्माहट मिलती है, वहीं फीवर और कॉमन कोल्ड जैसे संक्रामक को ठीक करना आसान हो जाता है।

हड्डियों को मजबूत रखने में मददगार

सुबह गुनगुने पानी में घी को मिलाकर उसका सेवन करने से हड्डियों को मजबूत रहने में मदद मिलती है.सुबह गुनगुने पानी में घी का सेवन करने से त्वचा अच्छी बनी रहती है और उसमें एक अलग सा निखार भी आता है.ठंड के मौसम में सुबह घी में गुनगुना पानी मिलाकर उसका सेवन करने से जोड़ों में हो रहे दर्द से छुटकारा मिलता है.

मस्तिष्क के लिए फायदेमंद होती है देसी घी

ब्रेन में 50% से अधिक फैट होता है, वहीं ब्रेन के नर्व सेल्स को सही रूप से कार्य करने के लिए पर्याप्त मात्रा में फैटी एसिड की आवश्यकता होती है। ऐसे में गुनगुने पानी के साथ घी का सेवन मस्तिष्क को पर्याप्त मात्रा में फैट प्रदान करता है। साथ ही देसी घी ब्रेन को हाइड्रेटेड रखती है और कॉग्निटिव फंक्शन और कंसंट्रेशन को इंप्रूव करने में मदद करती है। इतना ही नहीं देसी घी में विटामिन ई की मात्रा पाई जाती है, जो ब्रेन को प्रोटेक्ट करते हैं।

वेट मैनेजमेंट में मददगार है देसी घी

देसी घी शरीर से जिद्दी फैट और टॉक्सिंस को फ्लश आउट करने में मदद करती हैं। यह ब्लड मे अच्छे कोलेस्ट्रॉल और गट हेल्थ को बढ़ावा देती हैं। इसमें मौजूद ओमेगा 3 फैटी एसिड बैड कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करते हुए, गुड कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ावा देती हैं। जिससे कि हृदय स्वस्थ भी बेहतर होता है।

आंखों को स्वस्थ रखे

देसी घी आंखों के लिए कूलिंग एजेंट की तरह काम करती है। इसमें मौजूद ओमेगा 3 फैटी एसिड आंखों की रोशनी से जुड़ी समस्याओं को कम करते हुए आई ड्राइनेस और आंखों की थकान को कम करने में मददगार होती हैं। इसे गुनगुने पानी में मिला कर लेने के साथ ही आप अपने आंखों के चारों ओर अप्लाई कर सकती हैं।

जानें किस तरह लेना है देसी घी और गुनगुना पानी

एक कप गुनगुने पानी में एक चम्मच शुद्ध देसी घी डालें और इन्हें अच्छी तरह मिला लें।ध्यान रहे कि आप लिक्विड फॉर्म में घी को पानी में मिलाएं।अब सुबह खाली पेट इसे पिएं।गुनगुने पानी और घी से बने ड्रिंक को पीने के लगभग 30 मिनट के बाद तक कुछ भी न खाएं।यदि आप इसे रात को पी रही हैं, तो बेड पर लेटने के लगभग 20 मिनट पहले इसे पी लें।

Back to top button