ट्रेंडिंगभारत

बच्चों का जल्द होगा वैक्सीनेशन, छह महीने में कंपनी लॉन्च करेगी Covovax वैक्सीन

नई दिल्ली – सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) के CEO अदार पूनावाला (Adar Poonawalla) ने मंगलवार को कहा कि पुणे (Pune) स्थित वैक्सीन निर्माता कंपनी अगले छह महीनों में बच्चों के लिए कोरोना वायरस वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) लॉन्च करने की योजना बना रही है. पूनावाला ने रेखांकित किया कि जिस वैक्सीन को बच्चों के लिए तैयार किया जाएगा, वो अमेरिकी की बॉयोटेक्नोलॉजी कंपनी नोवावैक्स (Novavax) की कोविड-19 वैक्सीन (Covid-19 vaccine) है. उन्होंने कहा कि इसे उनकी कंपनी कोवोवैक्स (Covovax) के नाम से स्थानीय रूप से तैयार और उत्पादित करेगी.

कॉन्फेडरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री की ओर से आयोजित एक वर्चुअल कॉन्फ्रेंस में अदार पूनावाला ने कहा कि ट्रायल में तीन साल और उससे अधिक उम्र वाले बच्चों में नोवावैक्स के बेहतर परिणाम देखने को मिले हैं.एसआईआई का एस्ट्राजेनेका वैक्सीन का मासिक उत्पादन अप्रैल से लगभग चौगुना होकर 25 करोड़ खुराक तक पहुंच गया है। कंपनी ने फिलहाल मांग में कमी के चलते उत्पादन को आधा करने का ऐलान भी किया है.

भारत के औषधि महानियंत्रक (DCGI) द्वारा आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण (EUA) दिए गए वैक्सीन में से केवल एक वैक्सीन ऐसी है, जिसे 12 साल की आयु से अधिक के बच्चों के लिए मंजूर की गई है. ये वैक्सीन अहमदाबाद स्थित Zydus Cadila की ZyCoV-D वैक्सीन है. हालांकि, अभी तक इस वैक्सीन को देश के वैक्सीनेशन अभियान में शामिल नहीं किया गया है. DCGI के विशेषज्ञ पैनल ने 12-18 आयु वर्ग के लिए हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड के कोवैक्सीन की भी सिफारिश की है. हालांकि, केंद्र सरकार ने संसद को सूचित किया कि ‘अंतिम मंजूरी दिए जाने से पहले कंपनी से अतिरिक्त जानकारी मांगी गई है.

Back to top button