ट्रेंडिंगभारत

मोदी की मंत्री सावित्री ठाकुर नहीं लिख पाई ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’- वीडियो वायरल

नई दिल्ली – केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री और भाजपा नेता सावित्री ठाकुर का एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। इस वीडियो के सामने आने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी के कैबिनेट की मंत्री सावित्री ठाकुर के शिक्षा और उनको मंत्रालय में शामिल किए जाने को लेकर सवाल उठने लगे हैं।

स्कूल चलो अभियान का शुभारंभ

सावित्री ठाकुर धार के ब्रम्हाकुंडी स्कूल में स्कूल चलो अभियान का शुभारंभ कर रही थीं। उन्होंने तिलक लगाकर, माला पहनाकर बच्चों का स्वागत किया।इस कार्यक्रम के अंत में उन्होंने में प्रचार रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।इस दौरान स्टाफ ने उनसे प्रचार रथ के पीछे लगे बोर्ड पर ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ स्लोगन लिखकर हस्ताक्षर करने का निवेदन किया।इस निवेदन पर सावित्री ठाकुर उठीं और स्लोगन भी लिखा।लेकिन, उन्होंने बोर्ड पर लिख दिया, ‘बेटी पडाओ, बचाव’ लिख दिया और हस्ताक्षर कर दिए।इसके बाद किसी ने उनकी ये तस्वीर वायरल कर दी।बता दें, केंद्रीय राज्यमंत्री सावित्री ठाकुर 12वीं तक पढ़ी हुई हैं।गौरतलब है कि सावित्री ठाकुर ने धार लोकसभा सीट पर 2 लाख 18 हजार 665 से अधिक मतों से जीत हासिल की थी. यह सीट मालवा क्षेत्र की चर्चित सीट है।बीजेपी ने यहां तीसरी बार लोकसभा चुनाव जीता है। धार लोकसभा सीट पर कभी कांग्रेस का दबदबा रहता था।लेकिन, दो लोकसभा चुनाव में बीजेपी को यहां अभूतपूर्व सफलता मिली।

लिखना था ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’, लिखा दिया-

बेढी पडाओ बच्चाव…’ वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि सावित्री ठाकुर को व्हाइटबोर्ड पर हिंदी में ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ लिखना था लेकिन उन्होंने ‘बेढी पडाओ बच्चाव…।’ लिखा था। यह घटना कैमरे में कैद हुई और गलत वर्तनी लिखने का उनका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।

कांग्रेस ने बोला हमला

मंत्री सावित्री का वीडियो सामने आने के बाद कांग्रेस से जिला पंचायत सदस्य मुकाम सिंह अलावा ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर लिखा- लोकसभा चुनाव जीतीं धार-महू लोकसभा सांसद और केंद्रीय महिला एवं बाल विकास राज्यमंत्री सावित्री ठाकुर को बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ स्लोगन लिखना था। लेकिन, वह भी लिखते नहीं आ रहा है, बड़ा दुर्भाग्यपूर्ण विषय है।

Back to top button