टेक्नोलॉजी

Phone हैक होते ही दिखते है ये साइन-जानें

नई दिल्ली : आजकल फोन हैकिंग की घटनाएं बेहद ही आम हो गई हैं. राह चलते हुए किसी भी व्यक्ति का फोन हैक हो जाता है और उसे कानों कान भनक भी नहीं लगती है. फोन हैकिंग की एक सबसे बुरी बात यह है की एक बार आपका फोन हैकर्स के कंट्रोल में आ जाए तो उसमें पड़ा हुआ निजी डेटा खतरे में पड़ जाता है. चाहे आपके बैंक अकाउंट की डिटेल्स हो या फिर आपकी निजी फोटोग्राफ या फिर कोई वीडियो, सब हैकर्स के एक्सेस में आ जाता है. ऐसे में अगर आप कुछ बातों का ध्यान रखें तो काफी हद तक नुकसान होने से बचाया जा सकता है. आज हम आपको उन बदलावों के बारे में बताने जा रहे हैं जो फोन हैक होने के बाद नजर आने लगते हैं और आपको अगर इन बदलावों के बारे में पता हो तो आप तुरंत ही कोई एक्शन ले सकते हैं और फोन को हैकिंग से बचा सकते हैं.

फोन हैक होने के बाद दिखाई देने वाले बदलाव

अंजान कॉल और मैसेज का बार-बार आना

फोन हैक होने के बाद हैकर दूसरी आईडी बनाता है. जिसके बाद अनजान कॉल और मैसेज यूजर को आना लगते हैं, जिसका मतलब खतरे की घंटी है. अगर ऐसा आपके साथ होता है, तो समझ जाइए की आपका फोन हैक हो चुका है.

मोबाइल का अच्छे से काम न करना

जब मोबाइल अच्छे से काम नहीं कर रहा है तो लोगों को लगता है कि स्टोरेज फुल हो जाने की वजह से ऐसा हो रहा है, लेकिन अच्छे से काम न कर पाने के पीछे की वजह आपके मोबाइल का हैक होना भी हो सकता है. मोबाइल हैक होने के बाद हैकर उसमें वायरस या मालवेयर डाल देते हैं. जिसके चलते भी मोबाइल धीमें काम करने लगता है.

मोबाइल में अनजान ऐप्स को ना करें इंस्टॉल

अगर आपके मोबाइल में एकदम से अंजान एप्स दिखने लगे, वो भी जो आपने इंस्टॉल न किए हुए हो. तो आप समझ जाइए कि आपका मोबाइल हैक होकर गलत हाथों में पहुंच गया है. कुछ हैकर मोबाइल में अंजान एप्स का इस्तेमाल करके आपके डेटा चुराने की कोशिश करते हैं.

मोबाइल का ज्यादा गर्म होना भी सही नहीं

हैकर कई बार मोबाइल हैक करके उसमें बैकग्राउंड में कई प्रोग्राम चला देते हैं. जिसकी वजह से फोन गर्म हो जाता है, और लोगों को लगता है कि फोन को ज्यादा चलाने की वजह से इतना गर्म हो रहा है. तो अगली बार जब भी आपका फोन ज्यादा गर्म होने लगे तो उसे तुरंत चेक करें.

मोबाइल को कैसे रखें सैफ

वहीं अपने फोन को हैकर्स से बचाने के लिए अपने मोबाइल को अपडेट रखें, जिससे आपके फोन की सिक्योरिटी सेटिंग्स भी अपडेट होगा. इसके अलावा अपने फोन का और उसमे मौजूद जरूरी एप्स के पासकोड मजबूत होने चाहिए. फोन में कोई भी ऐप इंस्टाल करने से पहले उसको अच्छे से समझ लें. फोन को वायरस से बचाने के लिए एंटी वायरस का इस्तेमाल करे और अपने फोन को हैकर्स से बचाएं.

बैटरी लाइफ कम होना

अगर आपका फोन पहले से ज्यादा जल्दी चार्ज खत्म हो रहा है, तो यह एक संकेत हो सकता है कि आपका फोन हैक हो गया है. हैकर आपके फोन के बैकग्राउंड में कोई प्रोग्राम चला सकता है, जो आपकी बैटरी खर्च कर रहा है.

फोन का धीमा होना

अगर आपका फोन पहले से ज्यादा धीमा हो गया है, तो यह भी एक संकेत हो सकता है कि आपका फोन हैक हो गया है। हैकर आपके फोन में कोई वायरस या मैलवेयर डाल सकता है, जो आपके फोन की परफॉर्मेंस को प्रभावित कर सकता है.

माइक और कैमरा इंडिकेटर

जब भी आपके स्मार्टफोन में कोई भी ऐप कैमरा या फिर माइक को एक्सेस करता है, तो स्क्रीन पर ऊपर की साइड में आपको कैमरा और माइक का ग्रीन इंडिकेटर ब्लिंक करने लगता है। अगर, आपने कोई ऐप ओपन नहीं किया है, फिर भी आपको फोन की स्क्रीन में ये दोनों या इनमें से कोई एक इंडिकेटर दिख रहा है, जिसका मतलब है कि कोई आपके फोन को एक्सेस कर रहा है।अगर, आपके फोन में भी ऐसा इंडिकेटक दिखे तो तुरंत फोन की सेटिंग्स में जाएं और ऐप परमिशन में जाकर फोन के कैमरा और माइक्रोफोन का एक्सेस ऑफ कर दें।

मोबाइल डेटा तेजी से खत्म होना

स्मार्टफोन में जब आप कोई वीडियो देखते हैं या फिर म्यूजिक स्ट्रीम करते हैं, तो फोन का डेटा की खपत ज्यादा होती है। अगर, बिना OTT ऐप का इस्तेमाल किए भी आपके फोन का डेटा तेजी से खत्म हो रहा है, तो यह दर्शाता है कि स्मार्टफोन के बैकग्राउंड में डेटा माइनिंग की जा रही है।

फोन हैक होने से बचने के लिए क्या करें?

फोन हैक होने से बचने के लिए आप निम्नलिखित बातों का ध्यान रख सकते हैं:

  • अपने फोन को हमेशा अपडेट रखें. फोन के अपडेट में अक्सर सुरक्षा से जुड़े सुधार किए जाते हैं.
  • अपने फोन में केवल विश्वसनीय ऐप्स इंस्टॉल करें. अनधिकृत ऐप्स आपके फोन के लिए खतरनाक हो सकते हैं.
  • अपने फोन की सुरक्षा सेटिंग्स को मजबूत रखें. अपने फोन के पासवर्ड और पासकोड को मजबूत रखें.
  • अपने फोन में एंटीवायरस या एंटीमैलवेयर सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करें. ये सॉफ्टवेयर आपके फोन को वायरस और मैलवेयर से बचाने में मदद कर सकते हैं.
  • अगर आपको अपने फोन में इनमें से कोई भी बदलाव नजर आता है, तो तुरंत अपने फोन को फैक्टरी रिसेट कर दें. इससे आपके फोन में मौजूद सभी डेटा डिलीट हो जाएगा, लेकिन हैकर का एक्सेस भी ब्लॉक हो जाएगा.

Back to top button