बिजनेस

माइक्रो कैप आईटी कंपनी के शेयर में उछाल, 615% का बंपर रिटर्न

नई दिल्ली – शेयर बाजार के कामकाज की शुरुआत तेजी से हुई थी. शुरुआती काम काज में तेजी दिखाने के बाद हालांकि शेयर बाजार ने बढ़त गंवा दी थी. सुबह 10:06 बजे बीएसई सेंसेक्स 136 अंक की तेजी पर 73 145 अंक के लेवल पर कामकाज कर रहा था जबकि निफ्टी 31 अंक मजबूत होकर 22231 अंक के लेवल पर कामकाज कर रहा था. शेयर बाजार के शुरुआती घंटे के कारोबार में निफ़्टी ऑटो, निफ़्टी फार्मा और निफ्टी एफएमसीजी इंडेक्स में कमजोरी दर्ज की जा रही थी जबकि निफ्टी आईटी और निफ़्टी बैंक, निफ़्टी फाइनेंशियल सर्विसेज, निफ्टी मिड कैप 100, बीएसई स्मॉल कैप इंडेक्स तेजी पर कामकाज कर रहे थे.

हाइब्रिड सर्विस ऑपरेशन वेसल (SOVs) के लिए एक यूरोपीय ग्राहक से बड़ा ऑर्डर मिला है. कंपनी के मुताबिक, एक बड़े ऑर्डर का मूल्य ₹500-1,000 करोड़ के बीच क्लासिफाइड किया गया है. स्टॉक एक्सचेंज फाइलिंग में कंपनी ने कहा, हम सूचित करना चाहेंगे कि सीएसएल को हाइब्रिड सर्विस ऑपरेशन वेसल (Hybrid SOV) के डिजाइन और निर्माण के लिए एक यूरोपीय ग्राहक से एक बड़ा ऑर्डर मिला है, जिसमें ऐसे दो और जहाजों के विकल्प भी हैं. इनोवेटिव हाइब्रिड बैटरी सिस्टम से लैस हाइब्रिड एसओवी, कार्बन फुटप्रिंट को महत्वपूर्ण रूप से कम करते हुए ऊर्जा दक्षता में नए मानक स्थापित करने के लिए तैयार हैं.

कोचीन शिपयार्ड (Cochin Shipyard Limited) के शेयर ने पिछले 1 महीने में निवेशकों को 22 फ़ीसदी का रिटर्न दिया है जबकि पिछले 6 महीने में इस शेयर ने 549 रुपए के लेवल से 136 फीसदी का रिटर्न दिया है. पिछले 1 साल में कोचीन शिपयार्ड के शेयर ने 269 रुपए के निचले स्तर से निवेशकों को 381 फीसदी का बंपर रिटर्न दिया है. पिछले 5 साल में कोचीन शिपयार्ड के शेयर ने 17 मई 2019 को 181 रुपए के निचले स्तर से निवेशकों को 615 फीसदी का बंपर रिटर्न दिया है.

कोचिन शिपयार्ड लिमिटेड (CSL) एक शिपयार्ड संचालित करता है, जिसे तकनीकी सहयोग से Mitsubishi Heavy Industries, Japan ने डिज़ाइन और कंस्ट्रक्ट किया है. इस यार्ड ने 1978 में शिपबिल्डिंग ऑपरेशन्स और 1981 में शिप रिपेयरिंग शुरू की थी। CSL के पास एक शिपबिल्डिंग ड्राई-डॉक है, जो 110,000 DWT तक के शिप्स को हैंडल कर सकता है, और एक शिप रिपेयर ड्राई-डॉक है, जो 125,000 DWT तक के शिप्स को हैंडल कर सकता है.

Back to top button