Close
ट्रेंडिंगमनोरंजन

श्रेया घोषाल बर्थडे स्पेशल : श्रेया घोषाल ने 16 साल की उम्र में गाया था पहला बॉलीवुड गाना,हर साल अमेरिका में मनाया जाता है सिंगर के नाम खास डे

मुंबई – फिल्म ‘जिस्म’ का गाना ‘जादू है नशा है’ है तो आप सबने जरुर सुना होगा। इस गाने को हिंदी सिनेमा की मशहूर सिंगर श्रेया घोषाल ने अपनी आवाज दी थी। ये गाना श्रेया की आवाज पर बिल्कुल फिट बैठता है। श्रेया अपनी आवाज की जादू से एक ऐसा नशा पैदा कर देती हैं, जो सुनने वालों के दिलों में हमेशा बना रहता है। श्रेया आज अपना 40वां जन्मदिन मना रही हैं। इस खास मौके पर हम आपको उनसे जुड़ी कुछ अनसुने किस्सों के बारे में बताने जा रहे हैं।

संजय लीला भंसाली ने खोजा था ये नगीना

वह कहावत तो आपने सुनी ही होगी की भूत के पास पालने में ही नजर आने लगते हैं इस बच्ची के लिए भी कुछ ऐसा ही कहा जा सकता है. महज़ 4 साल के उम्र से ही इस बच्ची ने अपनी सुरीली की आवाज का जादू बिखेरना शुरू कर दिया था. इनकी मखमली आवाज में ऐसा नशा है जो लोगों को दीवाना बना देता है. अंदाज़ा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि इस सिंगर ने अब तक 1000 से ज्यादा बॉलीवुड के गाने गए हैं. इन्होंने अपना पहला गाना महज 16 साल की उम्र में गया था जो सुपर डुपर हिट साबित हुआ था. खास बात ये है कि इस नगीने की खोज जाने-माने फिल्म डायरेक्टर संजय लीला भंसाली ने की थी. तो हारमोनियम पर गाती हुई नजर आ रही इस क्यूट सी बच्ची क्या आपने पहचाना. हिंट के लिए बता देते हैं कि सिंगिंग इंडस्ट्री में इनका बड़ा नाम है और अमेरिका में इनके नाम पर एक दिन मनाया जाता है.

40वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रही हैं श्रेया घोषाल

महज 16 साल की उम्र में अपनी आवाज से सुरों का जादू चलाने वाली सिंगर श्रेया घोषाल (Shreya Ghosal) आज अपना जन्मदिन सेलिब्रेट कर रही हैं। सिंगर अपनी गायकी ही नहीं बल्कि खूबसूरती से भी अपने फैंस के दिलों पर राज कर करती हैं। फिल्म इंडस्ट्री में श्रेया ने अब तक कई अवॉर्डस अपने नाम किए हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि उनके नाम का दिवस अमेरिका में मनाया जाता है। यह सम्मान उनकी जिंदगी का अब तक का सबसे बड़ा सम्मान है, जिसने न सिर्फ उनका बल्कि पूरे देश का नाम गर्व से ऊंचा कर दिया है। श्रेया घोषाल के जन्मदिन पर आइए जानते हैं कि इसके पीछे की कहानी।

4 साल की उम्र से संगीत सीख रही है ये सिंगर

View this post on Instagram

A post shared by shreyaghoshal (@shreyaghoshal)

12 मार्च 1984 को पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में जन्मीं श्रेया घोषाल आज किसी परिचय का मोहताज नहीं है, 4 साल की उम्र में उन्होंने संगीत की तालीम लेना शुरू किया और 16 साल की उम्र में सिंगिंग रियलिटी शो सारेगामापा जीत लिया. श्रेया ने साल 2000 में संजय लीला भंसाली की फिल्म देवदास में पांच गाने गाकर सभी का दिल जीत लिया और अरेबिक सॉन्ग गुली माता से लेकर हजारों गाने आज तक वो गा चुकी हैं.

श्रेया घोषाल को इस फिल्म से मिला ब्रेक

बता दें कि गायिका श्रेया घोषाल ने महज 16 साल की उम्र में बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री में कदम रख दिया था। उनकी पहली फिल्म ‘देवदास’ थी जो खुद संजय लीला भंसाली ने उन्हें ऑफर की थी। दरअसल, उस वक्त श्रेया घोषाल टीवी की दुनिया के सबसे बड़े रियलिटी शो सा रे गा मा पा से चर्चा में आई थीं। जी हां, इस रियलिटी शो में ही गायिका श्रेया घोषाल की आवाज सुनकर निर्देशक संजय लीला भंसाली की मां उनकी फैन बन चुकी थी। जिसके बाद उन्होंने भंसाली से उनके फिल्म में उन्हें एक मौका देने की बात कही। अपनी मां के कहने पर भंसाली ने श्रेया घोषाल को ‘देवदास’ में गाने का मौका दिया। इस फिल्म में श्रेया ने पांच गाने गाए थे और ये सभी गाने सपरहिट साबित हुए।वहीं उन्होंने इस फिल्म के लिए अपना पहला नेशनल अवॉर्ड भी हासिल कर किया था। वैसे तो श्रेया घोषाल ने ढेरों अवॉर्ड्स जीते हैं लेकिन उनसे जुड़ी एक और खास बात है, जिसके बारे में शायद आप जानते नहीं होंगे।

इस रियलिटी शो से की एंट्री

बॉलीवुड सिंगर श्रेया घोषाल ने सबसे पहली बार सिंगिंग रियलिटी शो ‘सा रे गा मा’ से अपनी पहचान बनाई थी। उन्होंने इस शो को जीता और यहीं से उनकी सिंगिंग की जर्नी शुरू हुई। अपनी सुरीली आवाज से श्रेया आज भी अपने फैंस के दिलों पर राज करती हैं। साल 2010 में सिंगर को अमेरिका से एक बड़ा सम्मान मिला था, जिसने उनका सिर गर्व से ऊंचा कर दिया।

गवर्नर ने किया था ऐलान

आपको बता दें कि सिंगर श्रेया घोषाल के नाम का दिवस अमेरिका में मनाने के पीछे एक दिलचस्प कहानी है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सिंगर साल 2010 में गर्मियों की छुट्टी के दौरान अमेरिका गईं थीं। उस समय वहां के गर्वनर टेड स्ट्रिकलैंड ने श्रेया घोषाल के नाम का डे अमेरिका के ओहायो में सेलिब्रेट करने का ऐलान किया था। यही वजह है कि तब से आज तक 25 जून को उनके नाम का दिवस मनाकर उन्हें सम्मान दिया जाता है।

इसलिए अमेरिका में मनाया जाता है श्रेया घोषाल दिवस

आपको जानकर हैरानी होगी कि अमेरिका के एक राज्य में सिंगर श्रेया के नाम का दिवस मनाया जाता है। जी हां, हर साल 25 जून को अमेरिका के के ओहायो में श्रेया घोषाल के सम्मान में उनके नाम का दिवस मनाया जाता है। दरअसल ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि जब साल 2010 में जब श्रेया गर्मियों के दिनों अमेरिका का दौरा करने गई थीं तो उस दौरान ओहायो के गवर्नर टेड स्ट्रिकलैंड ने ये एलान कर दिया था कि अब इस दिन को श्रेया घोषाल डे के रूप में मनाया जाएगा। इसके बाद से हर साल ओहायो में 25 जून को श्रेया दिवस के सेलिब्रेट किया जाता है। इसके अलावा लंदन में मैडम तुसाद म्यूजियम में सिंगर का वैक्स स्टेच्यू भी बनाया गया है।

मैडम तुसाद में मौजूद स्टेच्यू

आपको बता दें कि सिंगर श्रेया घोषाल का वैक्स स्टेच्यू लंदन के मैडम तुसाद म्यूजियम में मौजूद है। जाहिर है कि सिंगर ने साल 2000 में अपना बॉलीवुड डेब्यू किया था। उन्हें पहला ब्रेक डायरेक्टर संजय लीला भंसाली ने दिया था। फिल्म ‘देवदास’ में श्रेया घोषाल ने ‘डोला रे डोला’, ‘सिलसिला ये चाहत का’ जैसे सुपरहिट गाने गाए थे। इसके अलावा उन्होंन

Back to top button