x
ट्रेंडिंगमनोरंजन

अरशद वारसी ने 25 साल बाद पत्नी संग तीसरी बार रचाई शादी,जानें वज़ह


सरकारी योजना के लिए जुड़े Join Now
खबरें Telegram पर पाने के लिए जुड़े Join Now

मुंबई – बॉलीवुड के जाने-माने एक्टर और ‘झलक दिखला जा 11’ के जज अरशद वारसी खबरों में बने हुए हैं। क्योंकि उन्होंने हाल ही में कोर्ट मैरिज की है। पत्नी मारिया गोरेटी के साथ इन्होंने स्पेशल मैरिज एक्ट के तहत इन्होंने एक बार फिर से सात जन्मों तक साथ रहने का वादा किया। अब आप सोच रहे होंगे कि इन्होंने ऐसा क्यों किया, तो बता दें कि पिछसे 25 सालों में इन्होंने अपनी शादी को रजिस्टर्ड ही नहीं करवाया था। लेकिन अचानक से इन्होंने ऐसा कदम क्यों उठाया, आइए बताते हैं।

पत्नी मारिया संग कोर्ट में दोबारा रचाया ब्याह

दरअसल, अरशद वारसी और मारिया गोरेटी आने वाले 14 फरवरी, 2024 को अपनी 25वीं सालगिरह मनाएंगे। इनकी मारिया गोरेटी से 14 फरवरी, 1999 में शादी हुई थी। और आने वाली 14 फरवरी को ये अपनी वेडिंग एनिवर्सरी की सिल्वर जुबली भी सेलिब्रेट करेंगे। मगर शादी को इतने लंबे समय बीत जाने के बावजूद, कभी कपल ने इसे रजिस्टर्ड नहीं करवाया था। हालांकि अब ये करवा लिया है। अब मीडियो रिपोर्ट्स के मुताबिक, एक्टर और उनकी पत्नी ने 23 जनवरी को अपनी शादी रजिस्टर करवाई और कोर्ट में शादी की।’

‘शादी की तारीख बताना बेकार लगता है’

इसी इंटरव्यू में एक्टर अरशद वारसी ने बताया कि उन्होंने वैलेंटाइन को ही शादी क्यों की। उन्होंने हंसते हुए कहा, ‘मुझे अपनी शादी की तारीख किसी के साथ शेयर करना पसद नहीं। मुझे इससे नफरत है। क्योंकि ये मुझे बहुत ही बेकार लगता है। मारिया और मैं दोनों इस बात से शर्मिंदा होते हैं। हालांकि यह कभी भी हमने जानबूझकर नहीं किया था। इसके पीछे एक किस्सा था।’

वैलेंटाइन के दिन अरशद वारसी ने क्यों की शादी?

एक्टर ने आगे बताया, ‘मारिया के माता-पिता चाहते थे कि हम जल्दी शादी कर लें। हम लेंट (मारिया गोरेटी का एक तरह का व्रत) के दौरान ऐसा कर नहीं पाए। और फिर मैं काम में बिजी हो गया। हालांकि साल बर्बाद न करते हुए, हमें शादी के लिए उस समय जो तारीख सही लगी, वह 14 फरवरी थी। इसलिए हमने उस दिन शादी कर ली। अब मेरे पास वैलेंटाइन डे की सबसे डरावनी याद है कि मैंने शादी कर ली।’

क्यों रजिस्टर्ज करवाई अपनी शादी?

टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में अरशद ने बताया कि यह बात उनके दिमाग में कभी नहीं आई और उन्होंने कभी नहीं सोचा कि यह महत्वपूर्ण है. लेकिन फिर हमें लगा कि प्रॉपर्टी का मामला हो और आपके ना रहने के बाद भी ये बहुत काम आता है. उन्होंने कहा कि हमने यह कानून के लिए किया है. वैसे मुझे लगता है कि अगर आप पार्टनर्स के रूप में एक-दूसरे के के लिए प्रतिबद्ध हैं, तो यही बिल्कुल भी मायने नहीं रखता है.

Back to top button