x
खेल

विजय हजारे ट्रॉफी 2023:दिनेश कार्तिक के बल्ले ने किया कमाल ,लिस्ट-A में पूरे किए अपने 7,500 रन


सरकारी योजना के लिए जुड़े Join Now
खबरें Telegram पर पाने के लिए जुड़े Join Now

नई दिल्लीः इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2024) का ताजा सीजन अभी दूर है लेकिन इन दिनों इंटरनेशनल क्रिकेट से दूर दिख रहे दिनेश कार्तिक की बैटिंग देखकर रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (RCB) काफी राहत में होगी कि उन्होंने कार्तिक को रिटेन करने में कोई गलती नहीं की है. कार्तिक इन दिनों घरेलू वनडे टूर्नामेंट विजय हजारे ट्रॉफी में खेल रहे हैं और यहां उन्होंने मुंबई की मुश्किल पिच पर धमाकेदार 68 रन ठोककर टीम को शानदार जीत दिलाई. तमिलनाडु की यह तीन मैचों में लगातार तीसरी जीत है.

कप्तान दिनेश कार्तिक के कंधों पर टीम को संभालने की बड़ी जिम्मेदारी थी.

बुधवार को BKC मुंबई के मैदान पर बड़ौदा के खिलाफ खेले गए ग्रुप E के इस मुकाबले में तमिलनाडु को पहले बैटिंग का न्योता मिला था. यहां साई सुदर्शन, साई किशोर, बाबा अपारिजत और विजय शंकर जैसे नामी बल्लेबाज फ्लॉप हो गए और पहले 15 ओवर में सिर्फ 52 रन जोड़कर 5 विकेट गंवा दिए थे. यहां से नंबर 7 पर खेलने उतरे कप्तान दिनेश कार्तिक के कंधों पर टीम को संभालने की बड़ी जिम्मेदारी थी.ऐसे में उन्होंने रन बनाने की गति को और बढ़ा दिया. उन्होंने 51 बॉल की अपनी पारी में 9 चौके और 2 छक्के भी जमाए. वह 68 के निजी स्कोर पर निनाद राथवा का शिकार बने. कार्तिक 8वें विकेट के रूप में जब आउट हुए, तब तमिलनाडु का स्कोर 156 था. इसके बाद तमिलनाडु की टीम सिर्फ 162 रनों पर ऑलआउट हो गई.लेकिन इस मुश्किल पिच पर तमिलनाडु के गेंदबाजों ने बड़ौदा के बल्लेबाजों को भी नहीं टिकने दिया. तमिलनाडु ने यहां इस कम स्कोर वाले मैच में भी 38 रनों से जीत दर्ज की. बड़ौदा की पूरी टीम यहां सिर्फ 124 रनों पर सिमट गई. उसके लिए कप्तान विष्णु सोलंकी ही सर्वाधिक 25 रन बना पाए. युवा तेज गेंदबाज टी. नटराजन ने सर्वाधिक 4 विकेट अपने नाम किए. उनके अलावा वरुण चक्रवर्ती ने 3, साई किशोर ने 2 और संदीप वॉरियर ने एक विकेट अपने किया.

कार्तिक ने खेली संघर्षपूर्ण पारी

जीत के लिए मिले 252 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए जब तमिलनाडु ने 40 रन के स्कोर पर अपना चौथा विकेट खोया, तब कार्तिक क्रीज पर आए। एक छोर से तमिलनाडु के विकेटों के पतन का क्रम जारी रहा, जबकि दूसरे छोर से कार्तिक ने लगातार रन बटोरे। संघर्षपूर्ण पारी खेल रहे कार्तिक 82 गेंदों में 93 रन बनाकर 9वें विकेट के रूप में आउट हुए। उन्हें विपक्षी तेज गेंदबाज सिद्धार्थ कौल ने आउट किया।कार्तिक अभी स्ट्राइक पर भी नहीं पहुंचे थे कि सामने से विजय शंकर (11) भी चलते बने. इसके बाद कार्तिक ने नए बल्लेबाज शाहरुख खान के साथ कुछ रन बटोरने पर ध्यान दिया. शाहरुख भी 39 बॉल पर 31 रन बनाकर आउट हो गए. तमिलनाडु को यह 127 के स्कोर पर 7वां झटका था. अब डीके को अपनी बाकी पारी पुछल्ले बल्लेबाजों के साथ खेलनी थी, जो कि विशुद्ध गेंदबाज ही थे.

बेमिसाल रहा है कार्तिक का लिस्ट-A करियर

कार्तिक ने विजय हजारे ट्रॉफी 2002-03 के साथ अपने लिस्ट-A करियर की शुरुआत की थी। उन्होंने 2 दशक लम्बे लिस्ट-A करियर में 256 मैच खेले हैं, जिसमें लगभग 40 की औसत के साथ 7,569 रन बना लिए हैं। वह 12 शतक के अलावा 41 अर्धशतक लगा चुके हैं। इस प्रारूप में उनका सर्वोच्च स्कोर नाबाद 154 रन रहा है। वह अपने फर्स्ट-क्लास करियर में 9,620 रन अपने नाम कर चुके हैं।

कार्तिक के संघर्ष के बावजूद हारा तमिलनाडु

पंजाब ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 45.2 ओवर में सभी विकेट खोकर 251 रन बनाए। पंजाब से कप्तान मनदीप सिंह (68) और प्रभसिमरन सिंह (58) ने अर्धशतक लगाए। तमिलनाडु से बाबा अपराजित ने सर्वाधिक 3 विकेट लिए। जवाब में कार्तिक के संघर्ष के बावजूद तमिलनाडु की टीम 34.2 ओवर में 175 रन बनाकर सिमट गई। पंजाब से कौल ने अपने 8 ओवर में 50 रन देते हुए 5 विकेट हासिल किए।

Dinesh Karthik ने खेली तूफानी पारी

विजय हजारे ट्रॉफी में दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) तमिलनाडु टीम की कप्तानी कर रहे हैं. 29 नवंबर को तमिलनाडु और बड़ौदा के बीच मैच खेले गए मैच कार्तिक ने बेहतरीन पारी खेलते हुए अपनी टीम को जीत दिलाई. कार्तिक ने 51 गेंदों में 9 चौके और 2 छक्के लगाते हुए 68 रन की पारी खेली. इस पारी के दम पर तमिलनाडु ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 162 रन बनाए और फिर बड़ौदा को 124 पर समेटकर 38 रन से जीत हासिल की.

IPL में RCB ने किया रिटेन

दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) का IPL 2023 में बेहद साधारण प्रदर्शन रहा था. इसलिए माना जा रहा था कि IPL 2024 से पहले आरसीबी उन्हें रिलीज कर देगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ. टीम ने इस अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज पर अपने भरोसा बरकरार रखते हुए उन्हें रिटेन कर लिया है. देखना होगा कार्तिक आने वाले सीजन में IPL 2022 वाला करिश्मा कर पाते हैं या नहीं.

कार्तिक के अंतरराष्ट्रीय करियर पर एक नजर

दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) काफी प्रतिभावान खिलाड़ी हैं लेकिन वे अपनी प्रतिभा के साथ अंतराष्ट्रीय स्तर पर न्याय नहीं कर पाए हैं. 2004 में अपने करियर की शुरुआत करने वाला ये विकेटकीपर बल्लेबाज प्रदर्शन में अनियमितता के कारण कभी भी टीम इंडिया के लिए किसी भी फॉर्मेट में अपनी जगह पक्की नहीं कर सका और हमेशा अंदर बाहर होता रहा.कार्तिक ने अपने करियर में खेले 26 टेस्ट की 42 पारियों में 25 की औसत से 1,025 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 7 अर्धशतक और 1 शतक लगाया है। वनडे क्रिकेट में 94 मैचों की 79 पारियों में उन्होंने 1,752 रन बनाए हैं। इस दौरान उनकी स्ट्राइक रेट 73.24 की रही है।पिछले 19 साल में वे टीम इंडिया के लिए 26 टेस्ट, 94 वनडे और 60 टी 20 खेल पाए हैं. टेस्ट में 1 शतक 7 अर्धशतक लगाते हुए 1025, वनडे में 9 अर्धशतक लगाते हुए 1752 और टी 20 में 1 अर्धशतक लगाते हुए 686 रन उनके नाम हैं. कार्तिक का IPLरिकॉर्ड अच्छा रहा है. 242 मैचों की 221 पारियों में 46 बार नाबाद रहते हुए 20 अर्धशतक की मदद से उन्होंने 4516 रन बनाए हैं. वे IPL में केकेआर की कप्तानी भी कर चुके हैं.

बड़ौदा के खिलाफ दिनेश कार्तिक ने बनाए 9 गेंदों में 48 रन

इससे पहले तमिलनाडु और बड़ौदा के बीच हुए मैच में कार्तिक ने मात्र 9 गेंदों में 48 रन जड़ दिए थे। इस मुकाबले में उन्होंने 51 गेंदों में 9 चौके और 2 छक्कों की मदद से 68 रनों की पारी खेली थी। मैच में तमिलनाडु ने बड़ौदा को 163 रनों का लक्ष्य दिया था, जबकि बड़ौदा 124 रनों के स्कोर पर ही ढेर हो गई थी।

लिस्ट-A में पूरे किए अपने 7,500 रन

अनुभवी खिलाड़ी कार्तिक टूर्नामेंट में तमिलनाडु की कमान संभालते हुए हैं। प्रतियोगिता में पांचवं राउंड में शुक्रवार को पंजाब ने तमिलनाड़ को 252 रनों का लक्ष्य दिया। जिसका पीछा करते हुए कार्तिक ने 82 गेंदों में 13 चौके और 4 छक्कों की मदद से 93 रनों की कप्तानी पारी खेली। विकेटकीपर बल्लेबाज अपने लिस्ट ए में 13वें शतक से चूक गए। लेकिन साथ उन्होंने अपने लिस्ट ए करियर में 7500 रनों का आंकड़ा पार करते हुए नई उपलब्धि हासिल कर ली है।

Back to top button