x
ट्रेंडिंगमनोरंजन

Rubina Dilaik प्रेग्नेंसी के दौरान बनी थी हादसे का शिकार ,एक्ट्रेस ने किया ये चौकाने वाला खुलासा


सरकारी योजना के लिए जुड़े Join Now
खबरें Telegram पर पाने के लिए जुड़े Join Now

मुंबई – Rubina Dilaik Twins: रुबीना दिलैक इन दिनों अपनी प्रेग्नेंसी को लेकर खूब चर्चा में हैं. फोटोशूट हो या फैमिली संग आउटिंग सोशल मीडिया पर उनका हर अपडेट फैंस का ध्यान खींच रहा है. इसी बीच अपनी प्रेग्नेंसी के आखिरी महीने में उन्होंने फैंस को एक गुड न्यूज दी है कि वह जुड़वां बच्चो (Rubina Dilaik Twins) की मां बनने वाली हैं. इस खबर को शेयर करते ही फैंस और सेलेब्स सभी का प्यार कपल को मिल रहा है. लेकिन फैंस का सवाल है कि यह बात उन्होंने पहले क्यों नहीं बताई. लेकिन एक्ट्रेस ने अपनी वीडियो में इस बात का जिक्र किया है.

रुबीना दिलैक बनेंगी जुड़वां बच्चों की मां

रुबीना दिलैक इन दिनों अपनी प्रेग्नेंसी की वजह से चर्चा में हैं। एक्ट्रेस ने अपने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो शेयर किया, जहां उन्होंने जुड़वा बच्चों की खबर पर पति अभिनव शुक्ला का रिएक्शन, अपनी प्रेग्नेंसी जर्नी और उसमें आने वाली कॉम्प्लीकेशन्स के बारे में बात की। रूबीना ने अपने सबसे बुरे सपने का सामना करने के बारे में विस्तार से बात की, जब वह अपनी प्रेग्नेंसी के दौरान एक रोड एक्सीडेंट का शिकार हो गई थीं। साथ ही बताया कि कैसे वह घटना अभी भी उसके रोंगटे खड़े कर देती है।रुबीना दिलैक ने हाल ही में पॉडकास्ट किसीने बताया नहीं द ममाकाडो शो के दौरान उन्होंने अपनी ट्वीन प्रेग्नेंसी की अनाउंसमेंट की. वहीं कुछ खुलासे भी किए कि उनके पति अभिनव शुक्ला का कैसा रिएक्शन था. दरअसल, एक्ट्रेस ने बताया कि डॉक्टर ने उन्हें शुरु में 12 हफ्ते सीरियस होने की बात कहकर डरा दिया था और इसका जिक्र करने से मना किया. इसके चलते हमने 3 महीने तक किसी से नहीं बताया.

रुबीना दिलैक ने दिखाई सोनोग्राफी रिपोर्ट

रुबीना दिलैक ने कहा, ‘मैं आपसे शेयर करना चाहती हूं कि हम जुड़वा बच्चों की उम्मीद कर रहे हैं। मैं अपने नौवें महीने में एंटर कर चुकी हूं और जब हमें पहली बार इस बारे में पता चला कि हमारे जुड़वां बच्चे हैं, तो अभिनव की रिएक्शन कुछ ऐसा था कि नहीं नहीं ऐसा नहीं। वह एकदम शॉक्ड था। मैंने उससे कहा कि यह सच है और डॉक्टर भी यही कह रहे हैं। घर जाते वक्त हमने एक-दूसरे से बात नहीं की क्योंकि हम यह जानकर बेहद उत्साहित और खुश थे कि हम पेरेंट्स बनने वाले हैं। घर जाते समय हमने एक-दूसरे से बात नहीं की। एकदम चुप बैठे रहे। एक बार जब हम घर पहुंचे, तो अभिनव ने मुझसे पूछा कि तुम्हें क्या कहना है और हमने एक-दूसरे को कुछ समय देने को कहा और अगले दिन हमारे कुछ ब्लड टेस्ट होने थे तो हम डॉक्टर की क्लीनिक पर गए। आगे रुबीना दिलैक ने कहा कि तीसरे महीने की प्रेग्नेंसी स्कैन से जब वह वापस लौट रही थीं तब उनकी गाड़ी का एक्सीडेंट हो गया था और उन्हें झटका लगा. दरअसल, कार एक्सीडेंट में पहले वह सीट पर पीछे गिरीं और फिर उनका सिर लगा. इसके कारण वह घबरा गईं. यही कारण था कि एक्ट्रेस ने यह बात छिपाकर रखी.

डॉक्टर ने दी थी रुबीना को सलाह

रुबीना ने आगे बताया, ‘डॉक्टर ने हमें अगले दिन अपने क्लिनिक में बुलाया और उन्होंने मुझे बताया कि मुझे बेहद सावधान रहना होगा। बेशक, पहले तीन महीनों तक मैंने घर पर किसी को नहीं बताया। डॉक्टर ने मुझसे कहा कि पहले तीन महीने तुम्हें बेहद सावधान रहना होगा। फीटस को पहले 12 सप्ताह स्वस्थ होकर पार करने की आवश्यकता होती है, इसके लिए हमें थोड़ा इंतजार करना होा क्योंकि ऐसी संभावना होती है कि एक फीटस खत्म हो जाए। मिसकैरेज के चांसेस ज्यादा होते हैं।

रुबीना दिलैक ने फैंस के साथ शेयर की ये बड़ी खुशी

रुबीना दिलैक की सोशल मीडिया पर चाहने वालों की कोई कमी नहीं है। वह जब भी कोई पोस्ट डालती हैं, तो लाखों लोग उस पर प्यार लुटाते हैं। हाल ही में टीवी की बॉस लेडी रुबीना दिलैक (Rubina Dilaik)ने अपने फैंस के साथ एक बड़ी खुशी शेयर करते हुए इंस्टाग्राम पर एक वीडियो पोस्ट किया।

हो रही है ये परेशानी

रुबीना ने आगे बताया, ‘मुझे अभी भी वह दिन याद है, हम अपने स्कैन से लौटे और राहत महसूस कर रहे थे क्योंकि पिछले तीन महीने तनावपूर्ण थे। यह मेरे लिए बहुत तनावपूर्ण था क्योंकि मैं काम कर रही थी और मूड स्विंग्स से जूझ रही थी। दरअसल, मेरी गाइनी ने मुझे तैयार किया था कि मैं इन चीजों से बड़े पैमाने पर कैसे निपटूंगी क्योंकि आपके गर्भ में जुड़वा बच्चे हैं। जब आप जुड़वां बच्चों को जन्म दे रही होती हैं तो आपको गुस्सा और तनाव अधिक मात्रा में होता है।

रुबीना दिलैक के शुरुआती 3 महीने

रुबीना ने आगे बताया, ‘मैं बहुत तनाव में थी क्योंकि हमें जुड़वां बच्चे थे लेकिन पहली तिमाही पार करने तक हम इसे किसी के साथ शेयर नहीं कर सकते थे। हमें मेडिकली श्योर होना था कि दोनों जुड़वां बच्चों की सांसे हैं और अब हम अपने करीबी लोगों के साथ यह खबर साझा कर सकते हैं। मैं जानती हूं कि वो तीन महीने कितने तनावपूर्ण थे। मुझे आज भी वह दिन याद है, जब मुझे इसके बारे में पता चला और हम घर लौट रहे थे। मैंने अभिनव से कहा कि ट्विंस प्रेग्नेंसी बहुत कॉम्प्लीकेटेड है और हमें बहुत सतर्क रहना होगा। मैं एक्साइटेड थी लेकिन साथ ही मैं घबरायी और डरी हुई भी थी। क्योंकि ऐसा कहा जाता है कि प्रेग्नेंसी के पहले तीन महीनों में सबसे ज्यादा मिसकैरेज होते हैं।

हो गया था कार एक्सीडेंट

रुबीना दिलैक ने बताया, ‘तीन महीने के बाद मैं अपने पहले स्कैन के लिए गई जहां मैंने पहली बार फीटस को बढ़ते हुए देखा। आपके अंदर शरीर के छोटे-छोटे अंग डेवलप हो रहे हैं। यह एक जबरदस्त एहसास है जैसे वाह, एक पूरा इंसान अंदर विकसित हो रहा है और मेरे पास तो दो हैं। घर आते समय मेरी कार का एक्सीडेंट हो गया। मैं सिग्नल पर इंतजार कर रही थी और एक ट्रक आया और पीछे से मेरी कार में टक्कर मार दी और निश्चित रूप से मैं उसके लिए बिल्कुल तैयार नहीं था। झटका ऐसा था कि पहले मेरी पीठ सीट से टकराई फिर मैं आगे झुकी और टक्कर होकर फिर पीछे आगे झुकी और टक्कर होकर फिर पीछे आ गई। वह दिन आज भी मेरे दिमाग में इतना ताजा है कि इसके बारे में बात करते हुए मेरे रोंगटे खड़े हो जाते हैं। मैं बहुत डरी हुई और मैं अपने लिए नहीं बल्कि मेरे अंदर पल रहे इन दो इंसानों के लिए डरी हुई थी।’

प्रेग्नेंसी के दौरान रुबीना के वो 6-7 घंटे

रुबीना ने आगे बताया, ‘वह अनुभव मैं वास्तव में शब्दों में व्यक्त नहीं कर सकती। मेरे मन में जितना डर था और मुझे लगा कि सब कुछ बिखर गया है। यह मेरा सबसे बुरा सपना था। हमने इमरजेंसी में सोनोग्राफी की व्यवस्था की क्योंकि मैं यह जानना चाहकी थी कि वो सुरक्षित हैं या नहीं। मैं उन 6/7 घंटों में बहुत पेरशान थी और यह बहुत दर्दनाक था। उस दिन मुझे एहसास हुआ कि प्रेग्नेंसी का कोई भी सफर आसान नहीं होता। कई सारी चीजें होती हैं, डर और जोखिम इतना होता है कि आपको इसके बारे में नहीं सिखा या सूचित कर सकता है। केवल आप ही इसका अनुभव कर सकते हैं। आज भी जब मैं उस हादसे के बारे में बताता हूं तो दिल दहल जाता है।’

प्रेग्नेंस में ऐसे रख रही हैं ख्याल

रुबीना ने आगे बताया, ‘मेरी गर्भावस्था के चार महीने बाद, मुझे पीठ संबंधी समस्याएं होने लगीं। मैं ठोस आहार लेने लगी और इस दौरान होने वाले हाई ब्लडप्रेशर, डायबटीज के खतरे से बचने के लिए प्रिकॉशन लेने लगी। यह बहुत आम है। मुझे अपनी डाइट पर कंट्रोल रखना पड़ा। मैं हर 15 दिन में डॉक्टर के पास जाती हूं, क्योंकि डॉक्टर को यह सुनिश्चित करना होता है कि दोनों बच्चे स्वस्थ रूप से बढ़ रहे हैं। यह मेरी अपनी जिम्मेदारी है कि मुझे अपने खान-पान, एक्सरसाइज के जरिए अपने अंदर पल रहे बच्चों का ख्याल रखना है।

रुबीना की खुशी को जब लगी थी नजर

रुबीना दिलैक ने बताया कि जब वह प्रेग्नेंसी के चेकअप के बाद जब घर आए, तो उनका एक्सीडेंट हो गया था और वह उनके लिए सबसे डरावना सपना था। आपको बता दें कि अभिनव शुक्ला और रुबीना दिलैक की शादी 21 जून 2018 में हुई थी। दोनों शादी के 5 साल बाद माता-पिता बनने वाले हैं।बता दें, अभिनव शुक्ला और रुबीना दिलैक ने एक साथ बिग बॉस में हिस्सा लिया था. जहां दोनों के रिश्ते पर खूब चर्चा हुई थी. हालांकि फैंस ने दोनों की कैमेस्ट्री को खूब पसंद किया था.

रुबीना दिलैक का चल रहा है 9वां महीना

रुबीना ने आगे बताया, ‘मैं अक्सर थक जाता हूं। मैंने खुद को कभी इतनी लो एनर्जी लेवल में नहीं देखा। मुझे मेरे डाइटीशियन और योगा मास्टर मोटिवेट करते रहते हैं। जुड़वां गर्भावस्था का नुकसान यह है कि डिलीवरी समय से पहले हो सकती है। नैच्युरल प्रेग्नेंसी 39 हफ्ते पूरे करती है, लेकिन जुड़वां बच्चों के दौरान इस बात की अधिक संभावना होती है कि 36-37 सप्ताह के बाद जुड़वां बच्चे पैदा हों। यदि समय से पहले जन्म होता है तो संभावना है कि अंग पूरी तरह से विकसित नहीं हुए हैं, आपको अतिरिक्त सावधान और सतर्क रहना होगा।’

Back to top button