x
ट्रेंडिंगमनोरंजन

Sunny Deol ने बॉलीवुड की दोस्ती को बताया ‘नकली’ ,एक्टर ने बताया हंसते चेहरों का सच


सरकारी योजना के लिए जुड़े Join Now
खबरें Telegram पर पाने के लिए जुड़े Join Now

मुंबई – ‘गदर 2’ की रिलीज का इंतजार कर रहे सनी देओल ने लेटेस्ट इंटरव्यू में बॉलीवुड कैंप पर बात की और बॉलीवुड के लोगों की दोस्ती को फेक बताया। सनी देओल ने फिल्म इंडस्ट्री के उन लोगों पर तंज कसा, जो दोस्त होने का दिखावा करते हैं। एक्टर ने कहा है कि जब उन्होंने भाई बॉबी देओल को फिल्मों में लॉन्च किया था, तो इंडस्ट्री का कोई भी आदमी उनके साथ काम करने को तैयार नहीं था।

फिल्मों में लोगों के व्यवहार को लेकर सनी ने बताया, ‘मुझे याद है जब 90 के दौर में बॉबी देओल को लॉन्च करना था. मैं कई फिल्ममेकर्स के पास गया लेकिन किसी ने उसे लॉन्च करने के लिए हाथ आगे नहीं बढ़ाया. इसके बाद दोस्त राजकुमार संतोषी ने 1995 में फिल्म ‘बरसात’ के जरिए बॉबी को लॉन्च किया. यहां जब लोग आप से मिलते हैं तो ऐसा जताते हैं कि वे आप से बहुत प्यार करते हैं. गले लगते हैं, अपनापन दिखाते हैं लेकिन हकीकत कुछ और होती है. यह सब फेक है.’

Sunny Deol ने दिए इंटरव्यू में बताया कि 90 के दशक में जब वह Bobby Deol को फिल्मों में लॉन्च करने का प्लान कर रहे थे, तो उन्होंने कई फिल्ममेकर्स से बात की थी। पर कोई भी उनके साथ काम करने को राजी नहीं था। सनी देओल का दिल टूट गया था।बॉबी देओल ने 1995 में फिल्म ‘बरसात’ से एक्टिंग डेब्यू किया था। इसे राजकुमार संतोषी ने डायरेक्ट किया था। उस वक्त सनी देओल और राजकुमार संतोषी के बीच अच्छे संबंध थे। तब तक दोनों ‘दामिनी’ और ‘घायल’ जैसी हिट पिक्चरें साथ में कर चुके थे।

सनी देओल ने बॉलीवुड की बेरुखी पर बात की, और कहा कि उस वक्त के मुकाबले, आज के दौर में स्टारकिड्स का फिल्मों में शुरुआत करना काफी मुश्किल है। वह बोले, ‘अब बहुत कठिन है। फिल्म फ्रेटरनिटी के एक्टर के लिए बहुत मुश्किल है। यहां लोगों ने बहुत नफरत फैलाई है। जिस तरह से वो व्यवहार करते हैं….हमारा परिवार कभी भी कैंप फैमिली नहीं रही। मुझे आज भी याद है कि जब मैं बॉबी को फिल्मों में लॉन्च कर रहा था, तो कई डायरेक्टर्स के पास गया था। लेकिन कोई हमारे साथ आने को तैयार नहीं हुआ।’सनी देओल ने बताया, ‘बहुत से लोग मुझे ‘पाजी’ कहकर पुकारते हैं. लेकिन मैं नहीं चाहता कि लोग मुझे ‘पाजी’ कहें. दरअसल, उन्हें इस शब्द का सही अर्थ ही नहीं पता, इसका मतलब होता है ‘बड़ा भाई’ और यह बहुत सम्मानीय है. यहां कई निर्देशकों के साथ काम करते हैं और फिर सब आगे बढ़ जाते हैं और यही ये दुनिया है.’

सनी देओल ने आगे बॉलीवुड के लोगों के दिखावटी स्वभाव और दोस्ती पर कहा, ‘हर कोई आता है और आपको गले लगाता है और आपसे मिलता है, जैसे वो आपसे बहुत प्यार करते हैं। लेकिन यह सब नकली है। बहुत से लोग मुझे पाजी कहते हैं। मैं कहता हूं कि कृपया मुझे पाजी न कहें क्योंकि आप पाजी का मतलब नहीं समझते हैं। इसमें बड़े भाई के लिए आदर होता है। ऐसी बहुत सी चीजें हैं, जो चल रही हैं, चलती रहेंगी क्योंकि वो जीवन में इतने अच्छे एक्टर हैं, पर शायद स्क्रीन पर नहीं।’सनी देओल की ‘गदर 2’ 11 अगस्त को रिलीज हो रही है। यह 22 साल पहले आई ‘गदर: एक प्रेम कथा’ का सीक्वल है। फिल्म में अमीषा पटेल, उत्कर्ष शर्मा, गौरव चोपड़ा, मनीष वाधवा और लव सिन्हा हैं। इसे अनिल शर्मा ने डायरेक्ट किया है।

Back to top button