Big news App
कोरोनाविश्व

दुनिया के कई देशों तेजी से बढ़ रहा कोरोना, कहीं स्कूल बंद तो कहीं लोगों को घरों में किया कैद

नई दिल्ली: कोविड -19 के मामलों में थोड़ी राहत के बाद दुनिया भर के देशों में एक बार फिर से वृद्धि देखी जा रही है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अधिकारियों ने कहा है कि सात मार्च से 13 मार्च के बीच संक्रमण के एक करोड़ से ज्यादा नए मामले दर्ज किए गए हैं, जो कि चिंता का विषय है। ऐसे में साफ है कि महामारी के दौर में मानक संचालन प्रक्रिया, एहतियात बरतने संबंधी दिशा-निर्देशों का उल्लंघन या अन्य किसी तरह की लापरवाही बरतना भारी पड़ सकता है।

अगर आपको लगता है कि कोरोना वायरस महामारी खत्म हो गई तो आप गलत हैं। दुनियाभर में फैली कोरोना महामारी अभी खत्म नहीं हुई है। कुछ देशों में कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन लगाना पड़ा है। थोड़ी राहत के बाद, दुनिया भर के देशों में एक बार फिर से कोविड -19 मामलों में वृद्धि देखी जा रही है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अधिकारियों ने कहा कि सात मार्च से 13 मार्च के बीच एक करोड़ से ज्यादा नए संक्रमण दर्ज किए गए है जो कि चिंता का विषय है। ब्रिटेन के लंदन में महामारी जारी है। चीन, हांगकांग, दक्षिण कोरिया आदि देशों में कोरोना के कारण प्रतिबंध लगाए गए हैं। आइए जानते हैं वो कौन से देश में जहां कोरोना मामलों में वृद्धि हुई है।

इस देश से कोरोना का पहला केस सामने आया था और सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में चीन सबसे आगे जिसके कई शहर अभी कोरोना की चपेट में है। शंघाई चीन का वाणिज्यिक केंद्र है, यहां अब बड़े पैमाने पर परीक्षण किया जा रहा है, ताकि कोविड -19 संक्रमण पर रोक लगाई जा सके। हालांकि कुछ जिले व्यवधानों को कम करने के प्रयास में लॉकडाउन नियमों में ढील दे रहे थे।

शंघाई, जो अब तक कोरोनोवायरस से अपेक्षाकृत अप्रभावित रहा है, यहां स्कूलों को बंद कर दिया है और एक शहर-व्यापी परीक्षण कार्यक्रम शुरू किया है और लोगों को घरों में कम से कम 48 घंटों के लिए बंद कर दिया गया है। 2020 में वुहान में पहली बार वायरस के सामने आने के बाद से चीन अपने सबसे खराब कोविड प्रकोप से जूझ रहा है।

दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल में कोरोना से दैनिक मरने वालों की संख्या रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई है। स्वास्थ्य अधिकारियों ने 621,000 से अधिक नए संक्रमणों की सूचना दी, इसी के साथ ओमिक्रॉन के बढ़ते मामले भी चिंता का विषय हैं। वहीं दक्षिण कोरिया में कोरोना मामलों के इतनी तेजी से बढ़ने से अस्पताल में भारी जोर पड़ने के आसार है और एक संकट खड़ा हो सकता है। यहां स्कूल कॉलजों को बंद करने की भी सलाह दी गई है।

download bignews app
Follow us on google news
Follow us on google news

Related Articles

Back to top button