लाइफस्टाइल

तनाव से मुक्ति पाने के लिए अपनाये ये आयुर्वेदिक औषधियां

मुंबई – आज की भागदौड़ भरी लाइफ में हर कोई तनाव से परेशान है। क्यूंकि हर कोई किसी न किसी वजह से तनाव का शिकार बनता जा रहा है। दिन-प्रतिदिन तनाव के मामले बढ़ रहे है। प्रतिस्पर्धा के इस दौर में हर कोई आगे निकल जाना चाहता है और जो पीछे रह जाता है, उसके मन में निराशा, कुंठा और चिंताएं घर कर जाती हैं। इन्हीं सब वजहों से व्यक्ति तनाव का शिकार होने लगता है।

यदि आपको भी तनाव अपने वश में ले रहा है, तो उसे बढ़ने से पहले ही रोक दें। दूसरों की तरह आत्महत्या जैसे काम करने के लिए खुद को प्रेरित न करें। आयुर्वेदिक औषधियों का इस्तेमाल करके भी आप तनाव से मुक्ति पा सकते है।और इसे आसानी से खत्म किया जा सकता है। लेकिन इनका सेवन करने से पहले आप किसी आयुर्वेदाचार्य से सलाह जरूर ले लें। तो चलिए जानते है कुछ आयुर्वेदिक औषधियो के बारे में।

अश्वगंधा :
यह आयुर्वेद की एक महत्वपूर्ण औषधि के रूप में जानी जाती है। यह विटामिन और एमिनो एसिड का संयोजन होती है। इसका सेवन आपके मष्तिष्क को तनावपूर्ण स्थिति में अनुकूल तथा स्थिर बनाए रखता है। इसके अलावा यह औषधि आपकी सहन शक्ति, ऊर्जा तथा धैर्य को भी बढ़ाती है। यह आपके शरीर में ऊर्जा को संतुलित बनाएं रखता है तथा अनिद्रा के रोग को भी दूर करता है।

भृंगराज :
यह आपके मस्तिष्क को सही मात्रा में आक्सीजन पहुंचाती है। इस कारण से आपको तनाव की समस्या से मुक्ति मिलती है। यह आपके शरीर को विषैले पदार्थों से मुक्त बनाती है तथा रक्त परिसंचरण में भी योगदान करती है। इसके सेवन से आपका मस्तिष्क शांत रहता है तथा शरीर रिलैक्स होता है। यह बालों से जुड़ी समस्याओं के लिए भी बेहतरीन औषधि है। भृंगराज रस और शहद का उपयोग कफ दूर करने में किया जाता है। यह फेफड़ों में बलगम के संचय को रोकता है और कफ बनने से राहत प्रदान करता है। चक्कर आने पर 5 एमएल भृंगराज रस को 3 ग्राम शक्कर के साथ दिया जाता है। ध्यान रखें कि कोई भी औषधि को बिना परामर्श के लेने से बचें।

ब्रह्मी का सेवन :
ब्रह्मी तनाव को कम करने के लिए जाना जाती है। यह तनाव हार्मोन (कोर्टिसोल) का लेवल कम रखने में मदद करती है। इसके अलावा यह औषधि एकाग्रता बढ़ाने के साथ मेमोरी को भी बढ़ाती है। खासकर स्टूडेंटïस के लिए ब्रह्मी काफी फायदेमंद है।

जटामासी :
यह आपको न सिर्फ शारीरिक थकान से निजात दिलाती है बल्कि आपके तनाव को भी खत्म करती है। इस जड़ी-बूटी की जड़े असल में औषधि का कार्य करती है। ये हमारे दिमाग को शांत रखने में लाभदायक होती है तथा हमारे शरीर को विषाक्त पदार्थों से भी मुक्त रखती है।

download bignews app
Follow us on google news
Follow us on google news

Related Articles

Back to top button