x
खेल

Ind vs Nz Test : अजिंक्य रहाणे Playing XI से बाहर, क्या रहाणे का करियर हो गया खत्म?


सरकारी योजना के लिए जुड़े Join Now
खबरें Telegram पर पाने के लिए जुड़े Join Now

मुंबई – न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट से ठीक पहले रहाणे को भारत की प्लेइंग इलेवन (India Playing XI) से बाहर कर दिया गया. रहाणे को बाहर करने की वजह चोट बताई गई. कहा गया कि उन्हें left hamstring strain है. लेकिन क्रिकेट पर बारीक नजर रखने वाले जानते हैं कि अजिंक्य रहाणे पिछले कई दिनों से आउट ऑफ फॉर्म चल रहे हैं.

विराट कोहली (Virat Kohli) की दूसरे टेस्ट में वापसी के बाद यह तय हो गया था कि भारत का कोई ना कोई एक बल्लेबाज प्लेइंग इलेवन से बाहर होगा. लेकिन गाज अजिंक्य रहाणे पर गिरेगी, इसका अंदाजा नहीं था. 33 साल के अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahanes) ने भारत के लिए 79 टेस्ट मैच खेले हैं. उन्होंने इनमें से 5 टेस्ट मैचों में कप्तानी भी की है. खास बात यह कि रहाणे ने जब भी कप्तानी की भारत को या तो जीत मिली या मैच ड्रॉ रहा. यानी भारत रहाणे की कप्तानी में कभी नहीं हारा. बल्लेबाजी की बात करें तो रहाणे को मौजूदा टीम इंडिया का संकटमोचक माना जाता रहा है.

वे ज्यादातर 5 नंबर पर खेलते हैं. वीवीएस लक्ष्मण के संन्यास के बाद रहाणे ही वो बल्लेबाज हैं, जिन्होंने भारतीय टीम के लड़खड़ाने पर टीम को संभाला. रहाणे की सबसे बड़ी खासियत यह भी है कि वे भारत की बजाय विदेशी पिचों पर बेहतर प्रदर्शन करते रहे हैं. आखिर जिस बल्लेबाज की इतनी सारी खूबियां हैं, उसका करियर ऐसे कैसे खत्म हो सकता है. जिस उप कप्तान ने एक मैच पहले भारतीय टीम (Team India) की कप्तानी की हो, वह उसका आखिरी मैच भी कैसे हो सकता है. जब अजिंक्य रहाणे के करियर के खत्म होने का कयास लगाया जाता है तो ऐसे सवाल रह-रहकर मन में उठते हैं. लेकिन प्रोफेशनल खेल में भावनाओं की कोई जगह नहीं होती. उसके लिए कोई भी टीम अपना वर्तमान और भविष्य देखती है. ऐसे में रहाणे की पोजीशन देखते हुए लगता है कि भारत को शायद वह बल्लेबाज मिल गया है, जो उन्हें रिप्लेस कर सकता है. रहाणे आमतौर पर पांचवें नंबर पर खेलते हैं और उनकी जगह को श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) बखूबी भर सकते हैं.

अब टीम इंडिया का बल्लेबाजी क्रम देखते हैं. मिडिलऑर्डर का बल्लेबाज होने के कारण रहाणे को ओपनिंग करने का मौका दिया नहीं जा सकता. तीसरे नंबर पर पुजारा खेल रहे हैं. चौथे नंबर पर खुद कप्तान विराट कोहली खेलेंगे. नंबर-5 पर श्रेयस अय्यर दावेदारी पेश कर चुके हैं. श्रेयस एकमात्र युवा बल्लेबाज हैं, जो तीनों फॉर्मेट में टीम इंडिया के लिए खेलते हैं. जाहिर है भविष्य की टीम बनाने के लिए उन्हें पूरा मौका दिए जाने की जरूरत है. कोच राहुल द्रविड़ नए खिलाड़ियों को पूरा मौका देने के लिए जाने जाते हैं. ऐसे में उम्मीद की जा सकती है कि अय्यर अगर दो-तीन मैच में नाकाम हो जाएं तब भी उन्हें मौका मिलेगा. तो फिर रहाणे का क्या होगा?

Back to top button