x
भारत

CBSE कक्षा 10वीं, 12वीं बोर्ड परीक्षा में बड़ा बदलाव हुआ -जाने


सरकारी योजना के लिए जुड़े Join Now
खबरें Telegram पर पाने के लिए जुड़े Join Now

नई दिल्ली – सीबीएसई बोर्ड परीक्षा को लेकर एक बड़ी खबर आ रही है. केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने सीबीएसई बोर्ड (CBSE) कक्षा 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा (Board Exam 2024) में बड़ा बदलाव किया है. सीबीएसई के शैक्षणिक सत्र 2024-25 से कक्षा 9वीं, 10वीं में छात्रों को 10 विषय पढ़ने होंगे, वहीं 12वीं कक्षा के छात्रों को कुल छह विषय का अध्ययन करना होगा. यही नहीं सीबीएसई 10वीं और 12वीं के छात्रों को सभी विषयों में पास होना अनिवार्य होगा.

शैक्षणिक सत्र यानी 2024-25

शैक्षणिक सत्र यानी 2024-25 से स्कूलों में क्रेडिट सिस्टम लागू करने की योजना बनाई है. इसके तहत कक्षा 6 से 12 वीं तक हर कक्षा में पढ़ाई पूरी करने/सीखने में कम से कम 1200 घंटे पूरे करने पर छात्रों को 40 क्रेडिट अंक मिलेंगे.यह क्रेडिट सभी विषयों में परीक्षा पास करने पर मिलेंगे और यह मार्कशीट में अंक/ग्रेड के सामने दर्ज होगा. साथ ही छात्र के एकेडमिक बैंक ऑफ क्रेडिट (डिजी लॉकर) में भी जमा होते रहेंगे. अभी तक ऐसा क्रेडिट सिस्टम उच्च शिक्षा में लागू है जिसके जरिए छात्रों को संस्थान या कोर्स बदलने की सहूलियत होती है.

10वीं में तीन और 12वीं में दो भाषा

सीबीएसई कक्षा 10वीं में अब तीन भाषाएं होंगी, जिसमें दो भाषाएं भारत में बोली जाने वाली होगी. सीबीएसई बोर्ड कक्षा 10वीं में सात मुख्य विषय होंगे. इसमें मैथ और कम्युटेशनल थिंकिंग, सोशल साइंस, साइंस, आर्ट्स, एजुकेशन, फिजिकल एजुकेशन एंड वेलनेस, प्रोफेशनल एजुकेशन शामिल हैं. छात्रों को सभी विषयों में उत्तीर्ण होना आवश्यक है. वहीं कक्षा 12वीं में अब छात्रों को एक के बजाय दो लैंग्वेज पढ़ना होगा. दो में से एक भाषा भारत में बोली जाने वाली होगी, वहीं चार मुख्य और एक वैकल्पिक विषय होंगे. नेशनल क्रेडिट फ्रेमवर्क (NCRF) के तहत इन विषयों को तीन ग्रुपों में बांटा गया है. छात्रों को दो ग्रुप से चार विषयों का चयन करना होगा.

इसी सत्र से लागू हुआ तो ऐसे मिलेंगे क्रेडिट

यदि चालू सत्र 2023-24 से ही क्रेडिट सिस्टम लागू कर दिया जाए तो क्या होगा, उसका ब्योरा भी साझा किया है.जिसके मुताबिक, कक्षा 9-10 के दो भाषा विषयों सहित पांच विषयों में हर विषय के लिए 7-7 क्रेडिट, फिजिकल एजुकेशन के 2 क्रेडिट और आर्ट एजुकेशन के लिए एक क्रेडिट यानी कुल 40 क्रेडिट मिलेंगे. इसी तरह, कक्षा 11-12 के छह विषयों में से भाषा विषयों के लिए 6-6 क्रेडिट और अन्य विषयों के लिए 7-7 क्रेडिट यानी कुल 40 क्रेडिट मिलेंगे.

Back to top button