x
भारत

आंध्रप्रदेश के लेपाक्षी पहुंचे PM मोदी, वीरभद्र मंदिर में राम की भक्ति में हुए लीन


सरकारी योजना के लिए जुड़े Join Now
खबरें Telegram पर पाने के लिए जुड़े Join Now

नई दिल्लीः अयोध्या में प्राणप्रतिष्ठा से ठीक 6 दिन पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिन के आंध्र प्रदेश-केरल दौरे पर हैं। मंगलवार को उन्होंने लेपाक्षी पहुंचकर 486 साल पुराने वीरभद्र मंदिर में पूजा की। मंदिर परिसर में बैठकर पीएम मोदी ने राम भजन भी किया।इसके बाद, पीएम मोदी सत्यसाई जिले के पलासमुद्रम जाएंगे। जहां वे नेशनल एकेडमी ऑफ कस्टम, इनडायरेक्ट टैक्स एंड नार्कोटिक्स (NACIN) इंस्टीट्यूट का इनॉगरेशन करेंगे। वे दोपहर 3:30 बजे पलासमुद्रम पहुंचेंगे।शाम 7:15 बजे केरल के कोच्चि में रोड शो भी करेंगे और 17 जनवरी की सुबह केरल के गुरुवयूर मंदिर में पूजा और दर्शन करेंगे।

क्यों खास है लेपाक्षी

लेपाक्षी का वीरभद्र मंदिर करीब 486 साल पुराना है। मंदिर को ‘हैंगिंग पिलर टेंपल’ के नाम से भी जाना जाता है। इस मंदिर में कुल 70 खंभे हैं, जिसमें से एक खंभा जमीन से जुड़ा नहीं है। वो रहस्यमयी तरीके से हवा में लटका हुआ है।रामायण में भी इसका खास महत्व है। दरअसल, जब रावण माता सीता का अपहरण कर रहा था तो उससे युद्ध के बाद जटायु घायल होकर यहीं गिर पड़ा था। मरते हुए जटायु ने भगवान राम को बताया था कि माता सीता को रावण दक्षिण की ओर ले गया है।

NACIN इंस्टीट्यूट में बने सेंटर देखेंगे

राज्य सरकार की तरफ से जारी प्रेस नोट के मुताबिक, पीएम NACIN ऑफिस के फर्स्ट फ्लोर पर बने स्मगलिंग सेंटर, नार्कोटिक्स स्टडी सेंटर और वाइल्ड लाइफ डिटेक्शन सेंटर को देखने जाएंगे। वह ग्राउंउ फ्लोर पर बने एक्स-रे और बैगेज स्क्रीनिंग सेंटर को भी देखेंगे। फिर एजुकेशन ब्लॉक का दौरा करेंगे, जहां वे ट्रेनी IRS अधिकारियों के साथ भी बातचीत करेंगे।

कई मायने में अनूठा है मंदिर

आंध्र प्रदेश के अनंतपुर जिले में स्थित लेपाक्षी मंदिर को वीरभद्र मंदिर (Veerbhadra Temple) के तौर पर जाना जाता है। इस मंदिर में भगवान शिव अपने क्रूर और रौद्र रूप में विराजित है। इसी वजह से इस मंदिर को वीरभद्र मंदिर कहा जाता है। इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि यह हैंगिंग पिलर पर टिका हुआ है। पिछले हफ्ते प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी ने महाराष्ट्र के नासिक में स्थित कालाराम मंदिर का भी दौरा किया था। पीएम मोदी ने तब मंदिर में साफ-सफाई की थी। पीएम मोदी ने राम मंदिर के उद्घाटन से पहले देशभर के मंदिरों की साफ-सफाई की अपील की है।

अब जानिए क्या है NACIN

आंध्र प्रदेश में NACIN की स्थापना को केंद्र सरकार ने आंध्र प्रदेश पुनर्गठन अधिनियम 2014 के तहत मंजूरी दी थी। 2022 में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कैंपस के भूमि भूजन में हिस्सा लिया था। तब निर्मला ने कहा था कि इंस्टीट्यूट के लिए पहले चरण में 729 करोड़ रुपये खर्च किये जायेंगे।IAS अधिकारियों को जिस तरह मसूरी के लाल बहादुर शास्त्री एकेडमी और IPS अधिकारियों को हैदराबाद के सरदार वल्लभभाई पटेल एकेडमी में ट्रेनिंग दी जाती है। उसी तरह आंध्र प्रदेश के पलासमुद्रम में बना NACIN इंस्टीट्यूट IRS अधिकारियों को ट्रेनिंग देगा।

15 दिन पहले भी केरल आए थे पीएम

इससे पहले पीएम मोदी 2 जनवरी को भी केरल के त्रिशूर में BJP महिला सम्मेलन में आए थे। 43 मिनट के संबोधन में पीएम ने कहा- आज कल देश में मोदी की गारंटी की चर्चा है, लेकिन मैं मानता हूं कि देश की नारी शक्ति विकसित भारत के संकल्प की सिद्धि की सबसे बड़ी गारंटी हैं।

केरल के दो मंदिरों में जाएंगे पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मंगलवार को केरल की दो दिवसीय यात्रा पर पहुंचेंगे। राज्य भाजपा अध्यक्ष के सुरेंद्रन ने कहा कि पीएम मोदी त्रिशूर जिले के गुरुवयूर श्री कृष्ण मंदिर और त्रिप्रयार श्री राम स्वामी मंदिर भी जाएंगे। मोदी का मंगलवार शाम को कोच्चि शहर में पहुंचने और शाम पांच बजे महाराजा कालेज मैदान से गेस्ट हाउस तक 1.3 किलोमीटर लंबा रोड शो करने का कार्यक्रम है।

सुरेश गोपी की बेटी की शादी में होंगे शामिल

बुधवार की सुबह, वह गुरुवयूर जाएंगे, जहां वह मंदिर में पूजा करेंगे और अभिनेता से नेता बने सुरेश गोपी की बेटी की शादी में शामिल होंगे। इसके बाद प्रधानमंत्री कोच्चि लौटेंगे, जहां वह लगभग 6,000 शक्ति केंद्रों के प्रभारियों के साथ एक पार्टी बैठक में भाग लेंगे, जिनमें से प्रत्येक में दो से तीन बूथ-स्तरीय क्षेत्र शामिल हैं। मोदी केंद्र सरकार की परियोजनाओं से जुड़े कार्यक्रमों में भी हिस्सा लेंगे और फिर शाम तक दिल्ली लौट आएंगे।

सभा को भी करेंगे संबोधित

इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी कुछ प्रशिक्षु अधिकारियों के साथ भी बातचीत करेंगे और ‘फ्लोरा आफ पलासमुद्रम’ नामक पुस्तक का विमोचन करेंगे। प्रधानमंत्री एनएसीआइएन को एक मान्यता प्रमाण पत्र भी प्रस्तुत करेंगे। इस दौरान पीएम मोदी एक सभा को भी संबोधित करेंगे। मोदी के लेपाक्षी मंदिर जाने की भी उम्मीद है। मोदी के कार्यक्रम में आंध्र प्रदेश के राज्यपाल एस अब्दुल नजीर और मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी शामिल रहेंगे।

Back to top button