Big news App
ट्रेंडिंगलाइफस्टाइल

आपको ठंड में गर्म पानी से नहाने की आदत है तो इतना जान लीजिए, नहीं तो डॉक्टर भी कुछ नहीं कर पाएंगे

नई दिल्ली – ठंड के मौसम में फ्लू और संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ जाता है। इस मौसम में ठंड से बचने के लिए लोग गर्म कपड़े, गर्म पानी, चाय और कॉफी का सहारा लेते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि सर्दी से निजात पाने के कुछ टिप्स आपके लिए परेशानी का सबब बन सकते हैं। जैसे: गर्म पानी से देर तक नहाने से शरीर को नुकसान हो सकता है। आइए आपको बताते हैं कि ठंड के मौसम में गलतियां करने से कैसे बचें।

लंबे समय तक गर्म स्नान-
जानकारों के मुताबिक ठंड के मौसम में ज्यादा देर तक गर्म पानी से नहाना सेहत के लिए अच्छा नहीं होता है। इसका हमारे तन और मन दोनों पर बुरा प्रभाव पड़ता है। वास्तव में गर्म पानी केराटिन नामक त्वचा कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाता है, जिससे त्वचा में खुजली, सूखापन और चकत्ते की समस्या बढ़ जाती है।

व्यायाम-
ठंड में तापमान कम होने के कारण लोगों का बिस्तर और बैठने में संकोच होता है। जीरो फिजिकल एक्टिविटी के कारण हमारा इम्यून सिस्टम धीमा होने लगता है। इसलिए रजाई में बैठने की बजाय तुरंत साइकिल चलानी चाहिए, टहलना चाहिए या कोई कसरत करनी चाहिए।

स्वयं दवा
इस मौसम में लोगों को अक्सर खांसी, जुकाम या बुखार होता है। ऐसे मामलों में, डॉक्टर की सलाह के बिना स्व-दवा घातक हो सकती है। ये किसी गंभीर बीमारी के लक्षण भी हो सकते हैं। इसलिए, किसी भी दवा या नुस्खे को आजमाने से पहले डॉक्टर से सलाह लेना जरूरी है।

अधिक खाएं-
सर्दी के मौसम में इंसान की डाइट अचानक से बढ़ जाती है और वह अपनी सेहत की परवाह किए बिना कुछ भी खाने लगता है। दरअसल, शरीर ठंडे लोगों की तुलना में अधिक कैलोरी बर्न करता है, जिसकी भरपाई हम हॉट चॉकलेट या अतिरिक्त कैलोरी युक्त खाद्य पदार्थों से करने लगते हैं। ऐसे में भूख लगने पर फाइबर युक्त सब्जियां या फल ही खाने चाहिए।

पानी कम पिएं-
सर्दियों में लोगों को प्यास कम लगती है। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि ठंड में शरीर को पानी की जरूरत नहीं होती है। पेशाब, पाचन और पसीने के जरिए शरीर से पानी बाहर निकल जाता है। ऐसे में पानी नहीं पीने से शरीर में डिहाइड्रेशन हो सकता है। इससे किडनी और पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।

सोने का रूटीन-
इस मौसम में दिन छोटे और रातें लंबी होती हैं। इस तरह की दिनचर्या न केवल सर्कैडियन चक्र को बाधित करती है, बल्कि शरीर के हार्मोन मेटालिनिन (स्लीप हार्मोन) के उत्पादन को भी बढ़ाती है। इससे नींद अधिक आती है। उनींदापन बढ़ जाता है। इसलिए कोशिश करनी चाहिए कि सोते समय पर्याप्त नींद लें।

बाहर जाने से बचें-
सर्दी के मौसम में ज्यादातर लोग ठंड से बचने के लिए बाहर जाना बंद कर देते हैं। ऐसा करना सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है। घर पर निचोड़ने से आपकी शारीरिक गतिविधि ख़राब हो जाएगी। मोटापा बढ़ेगा और आपको सूरज की किरणों से विटामिन डी नहीं मिल पाएगा।

सोने से पहले क्या करें-
एक शोध के अनुसार रात को सोने से पहले हाथों और पैरों को ग्लव्स से ढक लेना सेहत के लिए अच्छा होता है। नींद की गुणवत्ता में सुधार के लिए ये टिप्स बहुत फायदेमंद हैं।

download bignews app
Follow us on google news
Follow us on google news

Related Articles

Back to top button