विश्व

मेक्सिको की संसद  में 1,000 साल पुरानी  3 उंगलियों वाले 2 एलियंस की लाशें वैज्ञानिकों ने प्रदर्शित कीं ,वीडियो हुआ  वायरल

नई दिल्लीः लैटिन अमेरिकी देश मेक्सिको की संसद में एलियन को लेकर एक असामान्‍य घटना देखने को मिली है। इसे मानव सभ्‍यता के इतिहास में एक निर्णायक क्षण कहा जा रहा है। इससे आने वाले समय में एलियन और यूएफओ में लोगों की रुचि और ज्‍यादा बढ़ सकती है। दरअसल, मेक्सिको की कांग्रेस के अंदर एक आधिकारिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें दो ‘एलियन शव’ का प्रदर्शन किया गया। एलियन की इन लाशों का आधिकारिक अनावरण यूएफओ विशेषज्ञ जैमी मौसान ने किया।

मेक्सिको की संसद में अद्वितीय घटना: मेक्सिको शहर की संसद में हाल ही में एक असामान्य और रहस्यमय घटना घटी है, जिसे आमतौर पर हम ‘एलियन’ के नाम से जानते हैं। यह घटना ऐतिहासिक और विचारात्मक मानी जा रही है और इसके परिणामस्वरूप आने वाले समय में ‘एलियन’ और यूएफओ (अद्वितीय विद्वान वैज्ञानिक संगठन) में लोगों की रुचि बढ़ सकती है।

 क्या हमारी धरती पर एलियंस रहते हैं? इस बारे में कई सारी थ्योरी चलती है. हाल ही में एक पूर्व अमेरिकी खुफिया अधिकारी रिटायर्ड मेजर डेविड ग्रुश (David Grusch) ने इस बात का दावा किया था कि अमेरिका के पास लंबे समय से एलियन की मौजूदगी का सबूत है और अमेरिका इसे पूरी दुनिया से छिपाता रहा है. लेकिन अब मैक्सिको ने एक ऐसा दावा कर दिया है, जिसे देखकर पूरी दुनिया के होश उड़ जाएंगे. मेक्सिको की संसद में मंगलवार को दो एलियंस से शव का प्रदर्शन किया गया. ऐसा दावा है कि ये दोनों शव 1000 साल से अधिक पुराने हैं. इस दावे ने एलियंस की मौजूदगी को लेकर एक बार फिर नए सिरे से बहस छेड़ दी है.

मेक्सिको की कांग्रेस द्वारा आयोजित एक आधिकारिक कार्यक्रम में दो ‘एलियन शव’ का प्रदर्शन किया गया था, जिन्हें यूएफओ के विशेषज्ञ जैमी मौसान ने प्रस्तुत किया था। इन दो छोटे-छोटे शवों को सभी पर्यवेक्षकों के सामने रखा गया था। आयोजकों का दावा है कि इन ‘एलियन लाशों’ की आयु लगभग 1000 साल है और इन्हें पेरू के कूस्को से प्राप्त किया गया है।

ये दो छोटे-छोट शव सभी पर्यवेक्षकों के लिए रखे गए हैं। आयोजकों का दावा है कि यह ममी बन चुकीं लाशें 1000 साल पुरानी हैं और इन्‍हें पेरू के कूस्‍को से हासिल किया गया है। मौसान ने मैक्सिको सरकार के सदस्‍यों से कहा कि ‘यूएफओ के नमूने’ का मेक्सिको की एक यूनिवर्सिटी में अध्‍ययन किया गया है जहां उनके मुताबिक वैज्ञानिकों ने जोर देकर कहा है कि उन्‍होंने रेडियोकार्बन डेटिंग के आधार पर डीएनए साक्ष्‍य हासिल करने में सफलता हासिल की है।

मौसान ने बताया कि इन लाशों का वैज्ञानिक अध्ययन किया गया है और इन्हें रेडियोकार्बन डेटिंग के आधार पर जांचा गया है। उनके अनुसार, वैज्ञानिकों ने इन शवों के डीएनए साक्ष्य हासिल करने में सफलता पाई है, जिससे इन लाशों की प्राचीनता को साबित किया गया है।मौसान ने इस खोज के परिणामों को मेक्सिको सरकार और अमेरिका के अधिकारियों के साथ साझा किया है और उन्होंने बताया कि ये शव पृथ्वी के विकास का हिस्सा नहीं हैं।

मेक्सिको की संसद में मंगलवार (12 सितंबर) को दो गैर-मानव प्राणियों के अवशेष, जिन्हें आसान भाषा में एलियंस का शव भी कहा जा सकता है, पेश किया. ऐसा दावा किया गया है कि इन दोनों शव को पेरू के कुस्को में 2017 में बरामद किया गया था, जो तकरीबन 700 साल और 1800 साल पुराने हैं. इन दोनों एलियन के हाथों में तीन उंगलियां और लंबे सिर थे.यह नहीं पहली बार है कि दुनियाभर में ‘एलियन’ को लेकर विवाद उत्पन्न हुआ है। हाल में, अमेरिका ने भी इस मामले में एक बड़ा दावा किया था। अमेरिकी नौसेना के पूर्व पायलट रयान ग्रेव्स ने दावा किया कि उन्होंने उड़ानों के दौरान ‘एलियन’ से मुलाकात की थी।

मार्का डॉट काम ने मौसान के हवाले से कहा, ‘ये नमूने हमारी पृथ्‍वी के विकास के हिस्‍सा नहीं हैं। ये एक शैवाल की खान में मिले हैं और बाद में वे जीवाश्‍म में बदल गए। अमेरिका की तरह से ही मैक्सिको के सांसदों ने भी यूएफओ के ऊपर एक सुनवाई आयोजित की है। मंगलवार को दो लाशों को जिन्‍हें ‘गैर इंसानी’ एलियन जीव माना जा रहा है, उन्‍हें संसद के अंदर प्रदर्शित किया गया। मौसान एक पत्रकार भी हैं और लंबे समय से परग्रही जीवों के बारे में जांच कर रहे हैं।

इन ‘एलियन लाशों’ का रहस्यमय और अनूठा रूप सभी को हैरान कर देने वाला है। इन लाशों के इंसान की तरह से चेहरे होते हैं, हाथों में तीन उंगलियां और पैर होते हैं, जो एक विद्वान्ने द्वारा उजागर किया गया है।मेक्सिकन पत्रकार और रिसर्चर जैमे मौसन (Jaime Maussan) ने कहा कि यह बिल्कुल स्पष्ट है कि ये दोनों शव गैर-मानव या एलियन हैं. शोधकर्ता यह साबित कर सकते हैं कि दोनों ममियों का डीएनए इंसानों का नहीं था. इस दावे के साथ पृथ्वी पर एलियंस की उपस्थिति को स्वीकार करने वाला दुनिया का पहला देश बन गया है.

इस कार्यक्रम में अमेरिकी नौसेना के पूर्व पायलट रयान ग्रेव्‍स भी मौजूद थे। रयान ने दावा किया है कि उड़ानों के दौरान उनका सामना यूएफओ से हुआ था। ये ममी में बदल चुके शव शीशे के बॉक्‍स में रखे गए थे ताकि और लोग भी उन्‍हें देख सकें। मौसान ने सुनवाई के दौरान मैक्सिको सरकार और अमेरिका के अधिकारियों को इस खोज की जानकारी दी। दुनियाभर में एलियन को लेकर अक्‍सर कई दावे किए जाते रहे हैं। हाल में अमेरिका ने इसको लेकर बड़ा दावा किया था। इन ममी के इंसान की तरह से चेहरे हैं। उनके हाथों में तीन उंगलियां और पैर हैं।

मौसन ने बताया कि इन शवों को पेरू के कुस्को से बरामद किया गया था. ऐसा दावा है कि वहीं एलियंस का एक UFO दुर्घटनाग्रस्त हुआ था और ये एलियंस उसी मलबे में दबकर जीवाश्म में तब्दील हो गए. इन्हें सुरक्षित एक लकड़ी के बॉक्स में रखा गया है. शवों के कॉर्बन डेटिंग से पता चलता है कि ये शव हजार साल से भी अधिक पुराने हैं.

मेक्सिको सिटी में हुई इस अद्वितीय घटना ने ‘एलियन’ के मामले में एक नया मोड़ दिखाया है और यह सबको चौंका देने वाला है। इसके परिणामस्वरूप आने वाले समय में इस रहस्यमय विषय पर और अधिक गहरी जांच हो सकती है और यूएफओ में लोगों की रुचि और ज्यादा बढ़ सकती है।इसके अलावा, यह घटना हमारे धार्मिक और वैज्ञानिक मानव सभ्यता के इतिहास में एक महत्वपूर्ण क्षण के रूप में दर्ज की जा सकती है, जो हमारी समझ और ज्ञान को आगे बढ़ा सकता है।

क्या एलियंस का अस्तित्व है? मेक्सिको के वैज्ञानिकों ने शायद इस रहस्य को सुलझा लिया है. कई रिपोर्टों के अनुसार, मेक्सिको में दो “एलियन शव” पाए गए हैं. मेक्सिको कांग्रेस ने एक सत्र आयोजित किया जहां वैज्ञानिकों ने दो “गैर-मानवीय” लाशें प्रदर्शित कीं. रिपोर्ट में कहा गया है कि एलियन की लाशें कम से कम 1,000 साल पुरानी हैं. उन्हें कथित तौर पर पेरू के कुस्को से पुनर्प्राप्त किया गया था. मेक्सिको कांग्रेस में “विदेशी शवों” के अनावरण का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. मेक्सिको कांग्रेस में असामान्य कार्यक्रम की सह-मेजबानी मैक्सिकन पत्रकार और यूफोलॉजिस्ट जैमे मौसन ने की, जो वैज्ञानिकों के साथ दशकों से अलौकिक घटना की जांच कर रहे हैं.

Back to top button