बिजनेस

रतन टाटा को मिला ‘उद्योग रत्न अवॉर्ड’,मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और डिप्टी CM देवेंद्र फडणवीस ने बिजनेस टाइकून को अवॉर्ड से नवाजा

नई दिल्लीः मशहूर बिजनेसमैन और टाटा ग्रुप के चेयरमैन को महाराष्ट्र सरकार ने उद्योग रत्न अवॉर्ड से नवाजा है। महाराष्ट्र सरकार के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और डिप्टी CM देवेंद्र फडणवीस ने ये अवॉर्ड उनके घर दिया है। बता दें कि बिजनेस टाइकून रतन टाटा का स्वास्थ खराब होने के चलते वो किसी अवॉर्ड समारोह में भाग नहीं लेंगे। बता दें, 20 अगस्त को महाराष्ट्र में अवॉर्ड समारोह होना है, खराब स्वास्थ के चलते रतन टाटा इसमें भाग नहीं ले पाएंगे जिस कारण आज ही मुख्यमंत्री और डिप्टी CM ने उन्हें अवॉर्ड से नवाजा है।

बिजनेस टाइकून रतन टाटा (Ratan Tata) अरबों की संपत्ति के मालिक हैं, लेकिन वो हमेशा जमीन से जुड़कर रहते हैं. बात चाहे इंसानों की जरूरत की हो, किसी संस्‍था में दान की या फिर जानवरों की सुरक्षा की, रतन टाटा सोशल वर्क के मामले में पीछे नहीं हटते. जानवरों से खासतौर से कुत्‍तों से उन्‍हें बेहद प्‍यार है. उन्‍होंने कुत्‍तों के लिए टाटा ग्रुप के ग्‍लोबल हेडक्‍वाटर में एक लग्‍जरी हाउस तक बनवाया है. अब मॉनसून के मौसम को देखकर एक बार फिर से रतन टाटा को जानवरों की फिक्र सता रही है. उन्‍होंने इसको लेकर लोगों से ट्वीट के जरिए खास अपील की है.

रतन टाटा ने लोगों से अपील करते हुए कहा है कि ‘मॉनसून आ गया है. इस मौसम में बहुत सारी आवारा बिल्लियां और कुत्ते हमारी कारों के नीचे आश्रय लेते हैं. आश्रय लेने वाले आवारा जानवरों को किसी तरह की चोट न पहुंचे, इसके लिए अपनी कार को स्‍टार्ट करने से पहले और उसकी स्‍पीड बढ़ाने से पहले एक बार जरूर जांच लें कि कहीं गाड़ी के नीचे कोई जानवर तो नहीं है.

देश के सबसे बड़े बिजनेस शख्सियतों और अरबपतियों में शामिल रतन टाटा की देश में अपनी अलग फैन फॉलोइंग है. रतन टाटा देश के शांत स्वभाव के, विनम्र बड़ी शख्सियतों में शामिल हैं और अपनी इन्हीं क्वालिटीज़ के वजह से वो हजारों लोगों की प्रेरणा का स्रोत भी हैं. इसी वजह से जब वो इंस्टाग्राम पर आए थे, तो उनके फॉलोअर्स की संख्या तेजी से बढ़ी थी. उन्होंने अक्टूबर, 2019 में इंस्टाग्राम जॉइन किया था. तबसे इंस्टाग्राम पर उनके 8.5 मिलियन फॉलोअर्स हो चुके हैं. लेकिन रतन टाटा खुद बस एक ही प्रोफाइल को फॉलो करते हैं और वो है Tata Trusts.

देश के मशहूर बिजनेस टायकून रतन टाटा हमेशा लोगों की मदद करते हैं. अब महाराष्ट्र सरकार ने उद्योगपति रतन टाटा को पहला ‘उद्योग रत्न’ पुरस्कार देने का फैसला किया है. इसकी जानकारी महाराष्ट्र के उद्योग मंत्री उदय सामंत ने दी. राज्य के उद्योग मंत्री उदय सामंत ने बताया कि युवा उद्यमी, महिला उद्यमी और मराठी उद्यमी को भी ये पुरस्कार दिए जाएंगे.

टाटा ट्रस्ट, टाटा ग्रुप की ओर से चलाया जाने वाला चैरिटेबल संगठन है, जो देश में धर्मार्थ कामों में सहयोग देती है, चैरिटी में अनुदान देती है. इसकी स्थापना 1919 में हुई थी. हालांकि, इसकी नींव 130 साल पुरानी है, जब टाटा ग्रुप के संस्थापक जमशेदजी टाटा ने 1892 में JN Tata Endowment Fund की स्थापना की थी. यह फंड भारतीयों की उच्च शिक्षा प्राप्त करने में मदद करता था.

कुछ दिन पहले ही महाराष्ट्र सरकार ने बताया था कि देश के मशहूर बिजनेस टायकून रतन टाटा देशभर के लोगों की मदद के लिए हमेशा तैयार रहते हैं। रतन टाटा परोपकार और उदार दिल के लिए जाने जाते हैं। वो दूसरों की मदद करने से कभी पीछे नहीं हटते हैं, जिसके लिए अब महाराष्ट्र सरकार उन्हें इस काम के लिए ‘उद्योग रत्न’ पुरस्कार देगी। अवॉर्ड की जानकारी महाराष्ट्र के उद्योग मंत्री उदय सामंत ने दी है।

रतन टाटा ने टाटा ग्रुप की सभी जिम्मेदारियों से छुट्टी ले ली थी, लेकिन टाटा ट्रस्ट के कामों से वो अभी भी जुड़े हुए हैं. वो अभी भी इसके चेयरमैन हैं. यह ट्रस्ट हेल्थकेयर, न्यूट्रीशन, एजकेशन, सोशल जस्टिस, पर्यावरण, डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन, स्किल डेवलपमेंट जैसे कई सेक्टरों में काम करता है. टाटा ग्रुप इसके अलावा, कई दूसरे ट्रस्ट भी चलाता है. इसमें टाटा एजुकेशन एंड डेवलपमेंट ट्रस्ट, नवाजबाई रतन टाटा ट्रस्ट, बाई हीराबजी जे.एन. टाटा नवसारी चैरिटेबल इंस्टीट्यूशन और सार्वजनिक सेवा ट्रस्ट शामिल हैं.

अब तक मिल चुके हैं कई अवॉर्ड्स

पद्म विभूषण 2008
पद्म विभूषण 2000
CNN-IBN Indian of the Year in Business- 2006
आईएसीसी ने रतन टाटा को आईएसीसी लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड-4 अक्टूबर, 2020
लोकप्रिय उद्योगपति रतन टाटा को असम का सर्वोच्च -17 फरवरी,2022
रतन टाटा को Austrailia का सर्वोच्च नागरिक सम्मान-28 अप्रैल, 2023

टाटा ग्रुप आज एक और वजह से चर्चा में बना हुआ है. दरअसल, करीब 19 साल बाद टाटा ग्रुप (Tata Group) की कोई कंपनी अपना IPO (Initial Public Offering) लेकर आने वाली है. टाटा ग्रुप की कंपनी टाटा मोटर्स (Tata Motors) की सब्सिडियरी कंपनी टाटा टेक्नोलॉजी का आईपीओ आने वाला है. इससे पहले साल 2004 टाटा ग्रुप की दमदार कंपनी TCS का आईपीओ आया था. इस IPO में OFS के 9.57 करोड़ शेयर (23.6%) बेचे जाएंगे. इसमें 8,11,33,706 इक्विटी शेयर टाटा मोटर्स लिमिटेड के रहेंगे. इसके अलावा 97,16,853 शेयर एल्फा टीसी होल्डिंग्स प्राइवेट लिमिटेड के रहेंगे. वहीं 48,58,425 शेयर टाटा कैपिटल ग्रोथ फंड (I) के रहेंगे.

Back to top button