Close
भारत

मणिपुर हिंसा की जांच के लिए बनेगा आयोग,CBI की टीम भी करेगी जांच

नई दिल्ली – अमित शाह ने एलान किया कि मणिपुर हिंसा की जांच के लिए न्यायिक आयोग का गठन किया जाएगा। साथ ही सीबीआई द्वारा भी हिंसा की छह घटनाओं की जांच की जाएगी। गृहमंत्री ने कहा कि हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज की अध्यक्षता में जांच होगी। अमित शाह ने पीड़ितों को 10-10 लाख रुपए का मुआवजा देने का एलान किया, जिनमें से 5 लाख केंद्र सरकार और पांच लाख राज्य सरकार द्वारा दिए जाएंगे।

गृहमंत्री ने राज्य में स्थिति बेहतर होने की जानकारी देते हुए कहा, 15 पेट्रोल पंप चयनित किए गए हैं, जो दिन-रात खुले रहेंगे. रेल से भी मणिपुर में सप्लाई शुरू कर दी जाएगी. इन सब तरीकों से राज्य में जिन चीजों की कमी हो रही है, उन्हें पूरा किया जाएगा. 2-3 तीन दिन के भीतर रेलवे सेवा बहाल कर दी जाएगी.गृहमंत्री ने बताया, भारत सरकार के कुछ शिक्षा अधिकारी मणिपुर पहुंच गए है, जिससे बच्चों के लिए आसानी से शिक्षा व्यवस्था हो. अमित शाह ने दावा किया कि बच्चों की पढ़ाई में कोई व्यवधान नहीं आएगा. समझौतों की शर्तों का कठोरता से पालन किया जाए, जिन लोगों के पास हथियार हैं वो पुलिस को सौंपकर सरेंडर कर दें.

शाह ने SoO ग्रुप को भी चेतावनी देते हुए कहा कि संधि का किसी भी प्रकार से उल्लंघन होने पर सख्ती से संज्ञान लिया जाएगा. अगर ऐसा हुआ तो इसे संधि भंग करना माना जाएगा. उन्होंने कहा कि जो भी समझौते हुए हैं उनके शर्तों का पालन करना होगा.मणिपुर दौरे के दौरान अमित शाह ने कुल 11 राजनीतिक दलों और खिलाड़ियों के साथ बैठक की. उन्होंने अस्थाई कैंपों का दौरा किया. इसके साथ-साथ नागरिकों के प्रतिनिधि मंडल और कैबिनेट मंत्रियों के साथ मीटिंग भी की. उन्होंने महिला प्रतिनिधियों और बुद्धिजीवियों के साथ शांति स्थापित करने के लिए चर्चा भी की.

Back to top button