Close
भारत

दिल्ली समेत कई राज्यों में बढ़ेगा ठंड प्रमाण,परेशान करेगी शीतलहर

नई दिल्ली – दिल्ली सहित पड़ोसी राज्यों में 15 जनवरी (रविवार) से अलग-अलग हिस्सों में शीतलहर की स्थिति बने रहने का अनुमान है।मौसम विभाग के मुताबिक शीतलहर के चलते पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान और पश्चिमी यूपी में कोहरे की स्थिति में काफी सुधार है। जबकि पूर्वी यूपी और बिहार में घने से बहुत घने कोहरा अभी भी बरकरार है। भारत मौसम विज्ञान विभाग ने गुरुवार को उत्तर भारत में अगले हफ्ते से शीतलहर के एक नए दौर के शुरू होने और इससे तापमान में तीन से पांच डिग्री सेल्सियस की कमी आने का पूर्वानुमान जताया है।

मौसम विभाग का अनुमान है कि अभी तीन-चार दिन तक लोगों को ठंड से राहत मिलेगी। पश्चिमी विक्षोभ के कारण न्यूनतम तापमान में दो से चार डिग्री सेल्सियस तक की वृद्धि हो सकती है, जबकि अधिकतम तापमान 20 और न्यूनतम डिग्री सेल्सियस तक जाने की संभावना है। इसके बाद 14 जनवरी से ठंड दोबारा परेशान करेगी और तापमान में भी गिरावट आएगी।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने मुताबिक शीतलहर 15-16 जनवरी तक जारी रहने की संभावना है। भारत मौसम विभाग की अधिकारी ने कहा कि वर्तमान पश्चिमी विक्षोभ के कारण मौसम में भारी बदलाव हुए हैं। उन्होने कहा कि हम पश्चिमी विक्षोभों के कल (13 जनवरी) से पूर्व की ओर बढ़ने की उम्मीद कर रहे हैं। इसलिए 48 घंटों के बाद तापमान गिरना शुरू हो जाएगा। इसी तरह एक मौका है कि 15 और 16 जनवरी से पूरे उत्तर-पश्चिम भारत में शीत लहर की स्थिति फिर से उभरेगी।

जम्मू-कश्मीर में ज्यादातर स्थानों पर तापमान शून्य से नीचे चला गया, लेकिन श्रीनगर और कुपवाड़ा में कुछ बेहतर स्थिति रही। श्रीनगर में न्यूनतम तापमान 1.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। काजीगुंड का न्यूनतम तापमान माइनस .8 रहा। दक्षिणी कश्मीर के कोकेरनाग का न्यूनतम तापमान माइनस 3.6 रहा। राजधानी दिल्ली का अधिकतम तापमान सामान्य से 18.7 डिग्री सेल्सियस, न्यूनतम तापमान सामान्य 6.4 दर्ज किया गया। राजस्थान के चुरू में न्यूनतम तापमान 1.5 डिग्री सेल्सियस रहा। पंजाब के बठिंडा में तापमान 2.4 डिग्री सेल्सियस रहा। हरियाणा के भिवानी में न्यूनतम तापमान 3.8 दर्ज किया गया। चंडीगढ़ में न्यूनतम तापमान 7.8 रहा।

Back to top button