Big news App
राजनीति

Gujarat Elections 2022: गुजरात के इस गांव नहीं प्रचार की इजाजत,फिर भी होता अधिक मतदान

गुजरात – एक गांव ऐसा भी है, जो इन सभी राजनीतिक नाटकों से पूरी तरह खुद को दूर रखता है। राजकोट जिले के राज समाधियाला गांव की ग्रामीण ग्राम विकास समिति ने गांव में राजनीतिक दलों के प्रवेश और प्रचार पर रोक लगाई हुई है। विधानसभा चुनाव को लेकर गुजरात में जबर्दस्त प्रचार व चुनावी बुखार नजर आ रहा है, वहीं, राजकोट जिले के एक गांव में सन्नाटा पसरा पड़ा है।

राज समाधियाला गांव राजकोट से 20 किलोमीटर दूर है। यहां गांव वालों ने न केवल राजनीतिक प्रचार पर प्रतिबंध लगाया है, बल्कि मतदान में अधिकतम भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए मतदान नहीं करने वालों पर 51 रुपये का जुर्माना भी लगाया जाएगा। ग्राम विकास समिति (वीडीसी) ने गांव के लोगों के लिए कई नियम बनाए हैं। गांव के लोग इनसे बंधे हैं। नियम तोड़ने पर जुर्माना लगाया जाता है। अनिवार्य मतदान का भी नियम है। गांव में लगभग 100 फीसदी मतदान हो रहा है।

यहां के लोग ग्रामीण ग्राम विकास समिति (VDC) की तरफ से बनाए गए कई नियमों से बंधे हुए हैं और इनमें से किसी को भी तोड़ने पर भी जुर्माना लगाया जाता है। गांव में लगभग 100 प्रतिशत मतदान हो रहा है और जो भी जानबूझकर मतदान से दूर रहता है, उस पर 51 रुपये का जुर्माना लगता है। यहां तक की गांव का सरपंच भी आम सहमति से चुना जाता है।

download bignews app
Follow us on google news
Follow us on google news

Related Articles

Back to top button