Close
बिजनेसभारत

आधार में होगी जन्म से मृत्यु तक की डिटेल्स, नया प्लान

नई दिल्ली – सरकारी कामकाज से लेकर बैंकिंग या अन्य जरूरी काम के लिए आधार का होना अनिवार्य है. साथ ही आधार कार्ड में दी गई जानकारी का पूरी तरह अपडेटेड होना हम सभी के लिए काफी अहम है. Unique Identification Authority of India (UIDAI) समय समय पर आधार को लेकर सभी तरह के अपडेट्स देता रहता है. अब UIDAI ने आधार से जुड़े फर्जीवाड़े को रोकने के लिए धांसू प्लान ला रहा है.

आधार से जन्म और मृत्यु के डेटा (Birth and Death Data) को जोड़ने का फैसला लिया है. इके तहत अब नवजात शिशु को अस्थाई आधार नंबर (Temporary Aadhaar number) जारी किया जाएगा, बाद में इसे बायोमीट्रिक डेटा के साथ अपग्रेड किया जाएगा. इतना ही नहीं, मृत्यु के पंजीकरण के रिकॉर्ड को भी आधार के साथ जोड़ा जाएगा।

समय-समय पर UIDAI ग्राहकों के हित के लिए प्लान पेश करता रहता है. अब यूएआईडीएआई की जीरो आधार (Zero Aadhaar) अलॉट करने की भी योजना बना रहा है. इससे फर्जी आधार नंबर जेनरेट नहीं होगा, यानी किसी तरह का फर्जीवाड़ा नहीं हो सकेगा. इसके तहत एक व्यक्ति को एक से ज्यादा आधार नंबर अलॉट नहीं किए जा सकेंगे. जीरो आधार नंबर ऐसे लोगों को दिया जाता है जिनके पास जन्म, निवास या आय को कोई प्रमाण नहीं होता है. ऐसे व्यक्ति को आधार इंट्रोड्यूसर वेरिफाइड इलेक्ट्रॉनिक साइन के जरिए आधार इकोसिस्टम से इंट्रोड्यूस कराता है.

Back to top button