Big news App
आईपीएल 2022खेल

IPL 2022 : प्लेऑफ में पहुंचने वाली पहली टीम बनी गुजरात टाइटन्स, जानें बाकि 3 टीमों के बारें, कौन है दावेदार

मुंबई – इंडियन प्रीमियर लीग में पहली बार हिस्सा ले रही गुजरात टाइटन्स (GT) ने इतिहास रचा है. आईपीएल 2022 के प्लेऑफ में पहुंचने वाली गुजरात टाइटन्स पहली टीम बनी है. मंगलवार को लखनऊ सुपर जांयट्स को 62 रनों से हराकर गुजरात ने प्लेऑफ में अपनी सीट पक्की कर ली. लखनऊ के पास भी ऐसा करने का मौका था, लेकिन अब उसे कुछ इंतज़ार करना होगा.

हार्दिक पंड्या की कप्तानी में गुजरात टाइटन्स ने अपने खेल से हर किसी को हैरान किया है. हर मैच में टीम के लिए एक नया मैच विनर निकलकर आया है, यही कारण है कि टीम ने बेहतरीन खेल दिखाते हुए अब प्लेऑफ में जगह बना ली है. लेकिन अभी प्लेऑफ में तीन टीमों को और भी पहुंचना है, ऐसे में उसका क्या समीकरण बन रहा है समझते हैं…

गुजरात टाइटन्स ने 18 प्वाइंट के साथ अपनी जगह प्लेऑफ में पक्की की है. गुजरात के बाद अगर किसी टीम का चांस सबसे ज्यादा है, तो वह लखनऊ सुपर जायंट्स ही है. लखनऊ के अभी 16 प्वाइंट हैं और उसे दो मैच खेलने हैं. लखनऊ अगर एक भी मैच जीतती है, तो वह प्लेऑफ में पहुंच जाएगी. लेकिन टीम अगर दोनों मैच गंवा देती है, तो उसे नेट-रनरेट के भरोसे रहना होगा.

प्वाइंट टेबल में अभी तीसरे और चौथे नंबर पर राजस्थान रॉयल्स, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की टीमें हैं. दोनों ही टीमों के 14-14 प्वाइंट हैं, लेकिन राजस्थान के पास प्लेऑफ में पहुंचने का ज्यादा चांस है. क्योंकि राजस्थान के अभी तीन मैच बाकी हैं, ऐसे में अगर वह दो मैच जीत जाती है तो प्लेऑफ में पहुंच जाएगी. लेकिन अगर एक ही मैच जीतती है, तब भी नेट-रनरेट के आधार पर वह प्लेऑफ की रेस में बनी रहेगी.

अगर रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की बात करें तो टीम के दो मैच बाकी हैं और उसके 14 प्वाइंट हैं. अगर आरसीबी दोनों मैच जीतती है, तो वह प्लेऑफ में पहुंच जाएगी. लेकिन अगर एक मैच जीतती है, तो उस NRR पर निर्भर रहना होगा. लेकिन दोनों मैच गंवाने पर टीम का प्लेऑफ में पहुंचने का सपना टूट भी सकता है. हालांकि, बेंगलुरु ने लगातार 3 मैच गंवाने के बाद दो मैच में जीत भी हासिल की है.

प्वाइंट टेबल में टॉप-4 टीमों के अलावा दिल्ली कैपिटल्स, सनराइजर्स हैदराबाद, कोलकाता नाइट राइडर्स और पंजाब किंग्स के पास भी प्लेऑफ में पहुंचने का मौका है. हालांकि ये मौका काफी मुश्किल नज़र आता है. दिल्ली ने अभी 11 मैच खेले हैं, उसके तीन मैच बाकी हैं. सभी मैचों में जीत उसके 16 प्वाइंट करवा देगी, ऐसे में NRR का महत्व बढ़ेगा. दिल्ली की तरह ही हैदराबाद, पंजाब का यही हाल है.

कोलकाता की बात करें तो उसके 12 मैच हैं, लेकिन अभी 10 ही प्वाइंट हैं ऐसे में दोनों मैच में जीत भी उसके लिए 14 प्वाइंट ही कर पाएगी. चेन्नई सुपर किंग्स को अभी 3 मैच खेलने हैं, तीनों मैच में जीत के साथ उसके भी 14 प्वाइंट हो सकते हैं. अगर ऐसा होता है तो अंत तक प्लेऑफ की टीम तय होना मुश्किल हो सकता है. हालांकि, कोई टीम 14 प्वाइंट के साथ प्लेऑफ में पहुंचे ऐसा मुश्किल नज़र आता है.

download bignews app
Follow us on google news
Follow us on google news

Related Articles

Back to top button