Big news App
विश्व

भारतीय मूल के नंद मूलचंदानी बने सीआईए के पहले मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी, दिल्ली में आठ साल तक की है पढ़ाई

अमेरिका: अमेरिका में भारतीय मूल के आईटी विशेषज्ञ नंद मूलचंदानी को केंद्रीय खुफिया एजेंसी (सीआईए) का पहला मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी नियुक्त किया गया है। सीआईए के निदेशक विलियम जे बर्न्स ने नंद मूलचंदानी की नियुक्ति की। उन्होंने सोशल मीडिया पर उनकी नियुक्ति की घोषणा की थी। सीआईए के मुताबिक, मूलचंदानी के पास सिलिकॉन वैली में काम करने का 25 साल से ज्यादा का अनुभव है।

उन्होंने कॉर्नेल से कंप्यूटर साइंस और मैथ में डिग्री, स्टैनफोर्ड से मैनेजमेंट में मास्टर ऑफ साइंस की डिग्री और हार्वर्ड से पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर डिग्री हासिल की है। उन्होंने 1979 से 1987 के बीच दिल्ली के ब्लूबेल्स स्कूल इंटरनेशनल से पढ़ाई की है। उनकी नियुक्ति को लेकर सीआईए ने एक ट्वीट किया। जिसमें उसने बताया कि 25 से अधिक वर्षों का कार्यअनुभव रखने वाले मूलचंदानी यह सुनिश्चित करेंगे कि एजेंसी सीआईए के मिशन को आगे बढ़ाने के लिए अत्याधुनिक नवाचारों का लाभ उठा रही है।

शुक्रवार को जारी हुए केंद्रीय खुफिया एजेंसी (सीआईए) के एक बयान के मुताबिक,नंद मूलचंदानी को सिलिकॉन वैली के साथ-साथ रक्षा विभाग (डीओडी) में काम करने का पर्याप्त अनुभव है। वहीं इस भूमिका के लिए मूलचंदानी ने कहा कि मैं इस भूमिका में सीआईए में शामिल होने के लिए सम्मानित महसूस कर रहा हूं। उन्होंने कहा कि प्रौद्योगिकीविदों और डोमेन विशेषज्ञों की एजेंसी की अविश्वसनीय टीम के साथ काम करने के लिए तत्पर हूं।

गौरतलब है कि सीआईए में शामिल होने से पहले मूलचंदानी ने हाल ही में सीटीओ और डीओडी के संयुक्त आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सेंटर के कार्यवाहक निदेशक के रूप में कार्य किया। वे कई सफल स्टार्टअप ओब्लिक्स (ओरेकल द्वारा अधिग्रहित), डिटरमिना (वीएमवेयर द्वारा अधिग्रहित), ओपनडीएनएस (सिस्को द्वारा अधिग्रहित), और स्केलएक्सट्रीम (साइट्रिक्स द्वारा अधिग्रहित) के सह-स्थापना की और सीईओ भी थे।

download bignews app
Follow us on google news
Follow us on google news

Related Articles

Back to top button