Big news App
भारत

लू की चपेट में पूरा उत्तर भारत, इस दिन से मिलेगी राहत

मुंबई – देश में सूरज आग उगल रहा है. तापमान बढ़ रहा है, लू का प्रकोप जारी है. ऐसे में लोगों को भीषण गर्मी का सामना करना पड़ा है. वहीं कोयले की कमी के कारण देश में बिजली कटौती भी की जा रही है. सबसे ज्यादा तापमान उत्तर प्रदेश बुंदेलखंड क्षेत्र बांदा में दर्ज किया गया है. यहां तापमान 47 डिग्री सेल्सियस को पार कर गया. वहीं दिल्ली, हरियाणा, जम्मू कश्मीर, लद्दाख, पंजाब, चंडीगढ़ और हिमाचल प्रदेश में तापमान सामान्य से 4 डिग्री सेल्सियस ज्यादा रहेगा.

अप्रैल महीने में पड़ी भीषण गर्मी ने पिछले 122 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. उत्तर पश्चिम और मध्य भारत में अप्रैल का महीना सबसे गर्म रहा है. उत्तर पश्चिम के 9 राज्यों जम्मू कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, उत्तराखंड राजस्थान, दिल्ली और उत्तर प्रदेश में अप्रैल का औसत तापमान 35.900 दर्ज किया गया है. जो सामान्य से 3.35 डिग्री अधिक है.

संभावना जताई जा रही है कि 2 मई के बाद गर्मी से लोगों को राहत मिलने की उम्मीद है. वहीं पूरे महीने में देशभर में कई स्थानों पर तेज हवाओं के साथ बारिश की संभावना है. 5 मई के बाद बंगाल की खाड़ी में चक्रवात बनने की संभावना है. इस कारण आधे भारत में बारिश की संभावना है. मई का तीसरा सप्ताह सबसे अधिक ठंडा र ह सकता है.

यूपी, पंजाब और राजस्थान में भीषण गर्मी पड़ रही है. इस कारण मौसम विभाग द्वारा यूपी, पंजाब और राजस्थान में भीषण गर्मी पड़ रही है. हालांकि राजस्थान में अब गर्मी अपने अंतिम चरण में है. संभावना जताई जा रही है कि राजस्थान के कुछ क्षेत्रों में बारिश की संभावना है. राजस्थान के रेगिस्तानी इलाके बाड़मेर में बूंदाबांदी हुई है. मौसम विभाग की मानें तो 2-3 मई को मौसम में बदलाव होने की संभावना है. पश्चिमी विक्षोभ के कारण बीकानेर, चुरू, नागौर, जैसलमेर, जोधपुर, गंगानगर, हनुमानगढ़, झुंझुनू में आधी के साथ बारिश होनी संभावना है.

download bignews app
Follow us on google news
Follow us on google news

Related Articles

Back to top button