Big news App
भारत

देश मे हीटवेव ने लोगों की परेशानी बढ़ा रखी है, दिल्ली में कल न्यूनतम तापमान 46 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया

नई दिल्ली: दिल्ली के साथ पूरे देश मे आसमान से आग बरस रहे है। देश की राजधानी में 72 साल में अप्रैल सबसे गर्म महीना रहा। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार, अगले दो दिनों तक शहर में लू चलने की संभावना है। मौसम विभाग ने दिल्ली और पश्चिमी राजस्थान, पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में एक मई तक येलो अलर्ट जारी किया है। लेकिन हल्की बारिश के साथ गरज के साथ बौछारें पड़ सकती हैं। गुरुवार को दिल्ली में 12 साल बाद अप्रैल में सबसे ज्यादा तापमान 43.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अक्षरधाम स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स का तापमान 46.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। यह दिल्ली का सबसे अधिक तापमान है। कल का तापमान 46 डिग्री सेल्सियस था। सफदरजंग में 43.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

यूपी के प्रयागराज में 45.9 डिग्री सेल्सियस, खरगोन में 42.2 डिग्री सेल्सियस, अकोला में 45.4 डिग्री सेल्सियस, खजुराहो में 45.6 डिग्री सेल्सियस और जलगाम में 45.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। लू का पहला दौर 11 मार्च से 19 मार्च के बीच हुआ। दूसरा दौर 27 मार्च को शुरू हुआ और 12 अप्रैल तक चला। 17 अप्रैल को लू के तीसरे दौर ने दस्तक दी। 24 अप्रैल से शुरू हुई चौथी हीटवेव ने कच्छ-सौराष्ट्र और राजस्थान को प्रभावित किया। मौसम विभाग के मुताबिक अगले पांच दिनों तक गर्मी से कोई राहत नहीं मिलेगी। इस दौरान लू की स्थिति बनी रहेगी।

मौसम विभाग के ट्वीट के मुताबिक, उत्तर पश्चिम और मध्य भारत में अगले 5 दिनों तक और पूर्वी भारत में अगले 3 दिनों तक गर्मी रहेगी और फिर इसमें कमी आएगी। पूर्वोत्तर भारत में गरज के साथ गरज, बारिश और हवा चलने की संभावना है। मौसम विभाग ने राजस्थान, दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और ओडिशा के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। दिल्ली में लू को लेकर यलो अलर्ट जारी किया गया है। मौसम की चेतावनी के लिए आईएमडी चार कलर कोड का इस्तेमाल करता है। हरा, पीला, नारंगी और लाल।

download bignews app
Follow us on google news
Follow us on google news

Related Articles

Back to top button