भारत

UP के मदरसों में राष्ट्रगान हुआ अनिवार्य

लखनऊ – उत्‍तर प्रदेश के मदरसों में अब राष्‍ट्रगान अनिवार्य कर दिया गया है। इस सत्र से सभी अनुदानित और गैर अनुदानित मदरसों में कक्षाएं शुरू करने से पहले अन्‍य दुआओं के साथ विद्यार्थियों को राष्‍ट्रगान गाना पड़ेगा। उत्‍तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद ने गुरुवार को हुई बैठक में यह फैसला लिया है। जिसे बच्चे और शिक्षक साथ मिलकर गाएंगे। बीते गुरुवार परिषद की एक बैठक में मदरसा शिक्षा के सुधार को लेकर चर्चा हुई, जिस दौरान कई बड़े प्रस्ताव पर मुहर लगी।

जानकारी के मुताबिक, अब मदरसों में टीचर्स का रिक्रूटमेंट टीईटी की तर्ज पर होगा। नियुक्तियां MTET के जरिए की जाएंगी। वहीं, अगर मदरसों में छात्रों की संख्या कम होती है तो बाकी मदरसों में शिक्षकों का समायोजन किया जाएगा। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण से पहले सूबे के मदरसा बोर्ड ने पढ़ाई की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए कुछ सख्त एक्शन लेने का फैसला किया है। यूपी मदरसा शिक्षा परिषद ने भ्रष्टाचार पर भी लगाम लगाने के लिए सख्त कदम उठाए हैं। बताया जा रहा है कि अब नए सेशन से सभी अनुदानित और गैर अनुदानित मदरसों में दुआ के साथ राष्ट्रगान भी अनिवार्य हो जाएगा। बच्चे और शिक्षक दोनों ही साथ मिलकर नेशनल एंथम गाएंगे।

बैठक में यह निर्णय भी लिया गया है कि मुंशी-मौलवी, आलिम, कामिल और फाजिल के एग्जाम 14-27 मई के बीच होंगे। माध्‍यमिक शिक्षा परिषद के स्‍कूलों में गर्मी की छुट्टी होंगी और यूपी बोर्ड के आंसर शीट इवैल्यूएशन की वजह से कॉलेज उस समय खाली नहीं होंगे। ऐसे में मदरसा बोर्ड एग्जाम मदरसों में ही आयोजित करेगा। बता दें, यह फैसले मदरसा बोर्ड के अध्यक्ष इफ्तिखार अहमद जावेद की अध्यक्षता में हुई बैठक में लिए गए हैं।

कुछ लोग इसे योगी आदित्‍यनाथ के दोबारा सत्‍ता में आने का प्रभाव मान रे हैं. हालांकि अध‍िकांश मुसलमान वर्ग ने इस फैसले का स्‍वागत किया है. उन्‍होंने कहा कि यह देश हमारा भी है और हमें इस पर गर्व है. राष्‍ट्रगान को मदरसा के लिए अनिवार्य करना स्‍वागत योग्‍य कदम है. इससे मदरसों की छवि सुधरेगी.

Back to top button