Close
विश्व

इमरान खान ने अरबी मुसलमानों को भारत के खिलाफ एकजुट होने को कहा

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान इस समय अपनी कुर्सी बचाने के लिए कुछ भी उल जुलूल बयान दे रहे है। उनके खिलाफ विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव पर सात मई को मतदान होना है। जिसमें इमरान ने भारत के खिलाफ बयान दिया और कश्मीर राग गाया।

इमरान खान ने कहा, “हम डेढ़ अरब मुसलमान हैं लेकिन हम कश्मीर और फिलीपींस के मुद्दे को सुलझाने में नाकाम रहे हैं।” कश्मीर पर हमारा कोई प्रभाव नहीं है, वे हमें गंभीरता से नहीं ले रहे हैं.। कश्मीरी लोगों को आत्मनिर्णय का अधिकार नहीं दिया गया है। उन्होंने दावा किया कि भारत ने कश्मीर के विशेष दर्जे को अवैध रूप से समाप्त कर दिया है।

इमरान खान ने बाद में अरब मुसलमानों को भारत के खिलाफ एकजुट होने के लिए उकसाया। उस सम्मेलन में चीनी विदेश मंत्री वांग यी भी मौजूद थे जहां इमरान खान ने बयान दिया था। इमरान खान ने कहा कि हमें कश्मीर मुद्दे पर भारत के खिलाफ संयुक्त मोर्चा बनाने की जरूरत है। नहीं तो कश्मीर और फिलीपींस में अत्याचार जारी रहेंगे। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने फिलीपींस की तुलना कश्मीर से की और दावा किया कि कश्मीर के लोगों को फिलीपींस के समान आत्मनिर्णय का अधिकार नहीं दिया गया।

Back to top button