Big news App
ट्रेंडिंगलाइफस्टाइल

माथे पर क्यों लगाई जाती हैं बिंदी, जानें कारण

मुंबई – शादी के बाद महिलाएं माथे पर बिंदी लगाती हैं. कई महिलाएं शादी से पहले ही बिंदी लगाती हैं. आपको जानकर हैरानी होगी कि माथे पर बिंदी न सिर्फ खूबसूरती में चार चांद लगाती है बल्कि महिलाओं के लिए सेहत के लिहाज से भी बहुत जरूरी है. बिंदी को आयुर्वेद से लेकर एक्यूप्रेशर तक में तरजीह दी गई है और इसे महिलाओं की सेहत से जुड़ी कई समस्याओं के उपचार में मददगार भी माना गया है. आइए बताते हैं चेहरे पर बिंदी लगाने के फायदे.

बिंदी लगाने की सही जगह दोनों भौंहों के मध्य का बिंदु है, जिसे आयुर्वेद में शरीर का सबसे महत्वपूर्ण चक्र – अजना चक्र कहा गया है. आयुर्वेद में इस चक्र पर हल्के दबाव के जरिए मानसिक शांति और घबराहट के उपचार में मददगार हो सकता है. बिंदी चेहरे के मसल्स को मजबूत करता है, जिससे खून का प्रवाह तेज हो जाता है और मसल्स को लचीला बनाती है जिससे आपके चेहरे में झुर्रियों का आना कम हो जाता है.

माथें के बीच में लगे होने के कारण यहां की नसों को उत्तेजित करता है. जिसके कारण कान की भीतर की मसल्स को सुदृढ़ करके कान को स्वस्थ रखने के साथ-साथ सुनने की शक्ति को बढ़ा देता है.एक्यूप्रेशर विधि से बिंदी के स्थान पर दबाव बनाकर सिरदर्द का उपचार किया जाता है. इस ‌बिंदु से नसें व रक्त कोशिकाएं सक्रिय होती हैं, जिससे दर्द से तुरंत राहत मिलती है.

आयुर्वेद में बिंदी लगाने वाले स्थान को न सिर्फ मानसिक शांति के लिए महत्वपूर्ण माना गया है बल्कि यह तनाव दूर करने और अच्छी नींद के लिए भी जरूरी है. शिरोधरा विधि से इस बिंदु पर दबाव बनाकर अनिद्रा की समस्या दूर की जा सकती है.

download bignews app
Follow us on google news
Follow us on google news

Related Articles

Back to top button