Big news App
भारत

सौरव गांगुली डालते हैं सेलेक्टर्स पर दबाव?

मुंबई – पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) पिछले करीब 2 साल से भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष के तौर पर जिम्मेदारी संभाल रहे हैं. इन चुनौतीपूर्ण 26 महीनों के अंदर उन्होंने कई तरह की आलोचनाओं का सामना किया. इसमें उन्हें कोविड-19 के कारण पैदा हुई परेशानियों से तो रूबरू होना ही पड़ा लेकिन उन पर चयनकर्ताओं को प्रभावित करने के आरोप भी लगे. अब गांगुली ने खुद इन आरोपों पर जवाब दिया है.

सौरव गांगुली ने खुद पर लगे इन आरोपों को ही खारिज नहीं किया बल्कि अपने आलोचकों को भी याद दिलाया कि बीसीसीआई अध्यक्ष बनने से पहले वह मशहूर क्रिकेटर थे और 424 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके थे जिसमें 113 टेस्ट शामिल थे. गांगुली से जब पूछा गया कि क्या वह चयन समिति को प्रभावित करते हैं और चयनकर्ताओं पर दबाव डालने के लिए बैठकों में हिस्सा लेते हैं, उन्होंने पीटीआई से कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि मुझे किसी को इस पर जवाब देने की जरूरत है. इन आधारहीन आरोपों में से किसी को अहम बनाने की जरूरत है. मैं बीसीसीआई अध्यक्ष हूं और बीसीसीआई अध्यक्ष को जो काम करना चाहिए, वह करता हूं.’ उन्होंने आगे कहा, ‘आपको यह भी बता दूं, मैंने सोशल मीडिया पर एक फोटो देखी जिसमें मुझे चयन समिति की बैठक में बैठे हुए दिखाया जा रहा था. मैं स्पष्ट करना चाहूंगा कि यह फोटो (जिसमें गांगुली, जय शाह, कप्तान विराट कोहली और संयुक्त सचिव जयेश जॉर्ज बैठे हैं) चयन समिति की बैठक की नहीं थी. जयेश जॉर्ज चयन समिति का हिस्सा नहीं हैं. मैं भारत के लिए 424 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुका हूं. कभी-कभार लोगों को यह दिलाने का विचार बुरा नहीं है. (हंसते हुए)’

गांगुली ने बोर्ड के अन्य सदस्यों के साथ रिश्तों पर कहा, ‘सभी के साथ अच्छे रिश्ते हैं. सचिव जय शाह के साथ मेरा शानदार रिश्ता है. वह अच्छे मित्र हैं और विश्वासपात्र सहयोगी हैं. मैं, जय, अरूण (धूमल) और जयेश (जॉर्ज) हम इन दो वर्षों में विशेषकर कोविड-19 के मुश्किल दौर में, बोर्ड को आगे ले जाने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं. यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि क्रिकेट खेला जाए. मैं कहूंगा कि ये 2 साल शानदार रहे. हमने बतौर टीम ऐसा किया है.’
भारत के 1000वें वनडे के लिए क्या कुछ विशेष जश्न होगा, इस पर गांगुली ने स्पष्ट किया कि कोविड-19 प्रोटोकॉल के कारण यह संभव नहीं हो पाएगा. उन्होंने कहा, ‘नहीं… ऐसा कुछ नहीं हो पाएगा क्योंकि सबकुछ बायो-बबल में हो रहा है. हमें कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करना होगा, इसलिए किसी तरह का बड़ा जश्न संभव नहीं है.’

[category खेल]

download bignews app
Follow us on google news
Follow us on google news

Related Articles

Back to top button