भारत

सात फेज में होंगे 5 राज्यों में चुनाव, 10 मार्च को होगी वोटों की गिनती

नई दिल्ली – इस साल पांच राज्यों में चुनाव होने वाले हैं। चुनाव आयोग ने यह भी साफ कर दिया है कि चुनाव तय समय पर ही होंगे। मतदाता सूची भी जारी हो चुकी है। सभी चुनावी राज्यों में सियासी हलचलें तेज हैं। सबसे ज्यादा चर्चा उत्तर प्रदेश चुनाव की है। 403 विधानसभा सीट वाले इस प्रदेश में सभी राजनीतिक दलों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है।

इस बीच चुनाव आयोग ने 5 राज्यों की चुनाव तारीखों का ऐलान कर दिया। 5 राज्यों में चुनाव 7 चरण में होंगे। यूपी में पहले फेज का मतदान 10 फरवरी को होगा. दूसरा फेज-14 फरवरी, तीसरा फेज- 20 फरवरी, चौथा फेज- 23 फरवरी, पांचवां फेज- 27 फरवरी, छठा पेज- 3 मार्च, सातवां फेज- 7 मार्च और मतगणना- 10 मार्च .साथ ही पंजाब, गोवा और उत्तराखंड में एक फेज में होंगे चुनाव. 14 फरवरी को पंजाब गोवा और उत्तराखंड में मतदान होगा.

क्या कहा चुनाव आयोग ने –
चुनाव आयोग ने कहा पांच राज्यों की विधानसभा का कार्यकाल खत्म होने जा रहा है। 690 विधानसभा सीटों पर मतदान होने वाला है। कोरोना में चुनाव कराना महत्वपूर्ण है। इसके लिए नए प्रोटोकॉल बनाए गए हैं। कुछ तैयारियां भी की गई हैं। हमने इस बार तीन उद्देश्यों पर काम किया है। कोविड फ्री चुनाव, मतदाताओं की सहूलियत और अधिकतम मतदाताओं की भागीदारी। हमारी कोशिश है कि सूअरक्षित चुनाव करवाया जाए. चुनाव करवाना हमारा कर्तव्य है. इस बार पांच राज्यों में 18 करोड़ से ज्यादा मतदाता वोट करेंगे. कोरोना काल में सुरक्षित चुनाव के लिए तैयारियां की गई हैं.

CEC सुशील चंद्र ने कहा कि इस बार पांच राज्यों के चुनाव में कुल 18.34 करोड़ मतदाता हैं, इनमें सर्विस मतदाता भी शामिल हैं. इनमें से 8.55 करोड़ महिला मतदाता हैं. कुल 24.9 लाख मतदाता पहली बार वोट डालेंगे. इनमें से 11.4 लाख लड़कियां पहली बार वोटर बनीं हैं. सभी बूथ ग्राउंड फ्लोर पर होंगे, ताकि लोगों को सुविधा हो. बूथ पर सैनिटाइजर, मास्क उपलब्ध होगा. पोलिंग स्टेशन में इस बार 16% की वृद्धी की गई है. सभी पोलिंग सेंटर पर व्हील चेयर की व्यवस्था होगी. 1620 बूथ को महिला पोलिंगकर्मी मैनेज करेंगी. कैंडिडेट्स को अपने आपराधिक मामलों की जानकारी सभी माध्यमों से वोटर्स के साथ साझा करनी होगी. सभी कार्यक्रमों की विडियोग्राफी की जायेगी. 900 ऑब्जर्बर चुनाव पर नज़र रखेंगे.

एक अहम ऐलान में चुनाव आयोग ने कहा है कि मतदान के लिए समय को एक घंटा बढ़ा दिया गया है. ऐसा कोरोना की वजह से किया गया है. चुनाव के समय की घोषणा अधिसूचना जारी करने के वक्त की जाएगी. चुनाव आयोग ने आज से 15 जनवरी तक रोड शो, रैली, साइकिल रैली, पद यात्रा तक रोक पूर्ण रुप से रोक लगा दी है. 15 जनवरी के बाद पर इस पर विचार किया जाएगा. साथ ही रात 8 बजे के बाद चुनाव प्रचार पर रोक होगी।

चुनाव आयोग ने कहा है कि चुनाव प्रचार डिजिटल, वर्चुअल, मोबाइल के जरिए करें. फिजिकल प्रचार के पारंपरिक साधनों का इस्तेमाल कम से कम करें. इसके अलावा रात आठ बजे से सुबह आठ बजे तक कोई प्रचार, जन संपर्क राजनीतिक पार्टियां नहीं कर सकेंगी. विजय जुलूस नहीं निकाला जा सकेगा. विजय उम्मीदवार दो लोगों के साथ प्रमाण पत्र लेने जाएंगे. पार्टियों को तय जगहों पर ही सभा करने की अनुमति होगी. सभी पार्टियों और उम्मीदवारों को अंडरटेकिंग देनी होगी कि वे कोविड गाइड लाइन का पालन सख्ती से करेंगे.

download bignews app
Follow us on google news
Follow us on google news

Related Articles

Back to top button