खेल

IND VS SA : केएल राहुल ने बताई टीम इंडिया की हार की वजह, जानें वह 5 कारण

नई दिल्ली – जोहानिसबर्ग टेस्ट में ही टेस्ट सीरीज जीतने के सपने देख रही टीम इंडिया को साउथ अफ्रीकी टीम ने करारा झटका दिया. कप्तान डीन एल्गर के नाबाद 96 रन और रेसी वान डर डुसे के बेहतरीन 40 रनों के दम पर मेजबान टीम ने 7 विकेट से जीत हासिल कर ली. साउथ अफ्रीका ने 240 रनों का लक्ष्य बेहतरीन अंदाज में महज 3 विकेट खोकर हासिल किया. चौथी पारी में पिच मुश्किल थी लेकिन साउथ अफ्रीकी बल्लेबाज विकेट पर डटे रहे और अंत में उन्होंने टेस्ट सीरीज 1-1 से बराबर कर ली.

मैच के बाद केएल राहुल ने कहा, ‘ टॉस जीतने के बाद हम बड़ा स्कोर खड़ा करने में नाकाम रहे, हमें 60-70 रन और बनाने चाहिए थे.’ उन्होंने कहा, ‘हम सभी को लगा था कि 122 रन (चौथे दिन साउथ अफ्रीका को जीत के लिए जरूरी रन) बनाना आसान नहीं होगा और हम यहां कुछ खास कर सकते हैं. पिच भी बल्लेबाजी के लिए मुश्किल थी लेकिन साउथ अफ्रीका के बल्लेबाज अपने काम को लेकर पूरी तरह से प्रतिबद्ध थे. ‘

भारतीय कप्तान ने पहली पारी में सात विकेट लेने वाले शार्दुल ठाकुर की तारीफ करते हुए कहा, ‘ शारदुल के लिए यह शानदार टेस्ट मैच रहा. उसने हमारे लिए जो कुछ टेस्ट मैच खेले हैं उसमें काफी प्रभावित किया है. उसने बल्ले से भी अहम योगदान दिया. ‘

हार की वजह –
केएल राहुल की खराब कप्तानी
केएल राहुल की कप्तानी भी टीम इंडिया की हार की बड़ी वजह रही. राहुल ने चौथी पारी में काफी डिफेंसिव फील्ड रखी जिसका फायदा साउथ अफ्रीका ने उठाया. भारतीय कप्तान ने ऐसी फील्डिंग लगाई जिसके सामने नए बल्लेबाजों ने भी आसानी से सिंगल लिये.

कोहली की कमी खली
टीम इंडिया की टेस्ट क्रिकेट में कामयाबी में विराट कोहली का बहुत बड़ा हाथ रहा है. उनका अनुभव, आक्रामक रवैया और गेंदबाजों में विकेट लेने की आग भरना जोहानिसबर्ग में टीम इंडिया ने काफी याद किया. कोहली की चोट भारत को भारी पड़ गई.

बुमराह ने खराब लाइन-लेंग्थ से की गेंदबाजी
टेस्ट क्रिकेट में अगर जीत हासिल करनी हो तो टीम इंडिया जसप्रीत बुमराह पर काफी निर्भर करती है लेकिन इस गेंदबाज ने जोहानिसबर्ग में निराश किया. जसप्रीत बुमराह ने विकेट लेने की ज्यादा कोशिश की और इसी कोशिश में वो अपनी ताकत पर कायम नहीं रह सके. बुमराह ने ऑफ स्टंप पर अटैक करने की बजाए विकेटों को निशाना बनाने का प्रयास किया और इस दौरान उन्होंने कई गेंदें पैरों पर फेंकी जिसका फायदा साउथ अफ्रीकी बल्लेबाजों ने उठाया. बुमराह ने मुश्किल पिच लगभग 4 रन प्रति ओवर रन दिए जो कि बेहद ही खराब प्रदर्शन है.

मोहम्मद सिराज की कमी खली
जोहानिसबर्ग टेस्ट में टीम इंडिया ने मोहम्मद सिराज को काफी ज्यादा मिस किया. सिराज को पहली पारी में हैमस्ट्रिंग इंजरी हो गई थी जिसकी वजह से वो गेंदबाजी के लिए पूरी तरह फिट नहीं थे. सिराज ने मैच में सिर्फ 4 ही ओवर फेंके.

साउथ अफ्रीकी बल्लेबाजों का दमदार प्रदर्शन
भारत की हार की सबसे बड़ी वजह साउथ अफ्रीकी बल्लेबाजों का बेहतरीन प्रदर्शन रहा. डीन एल्गर, डुसे ने शरीर पर गेंदें झेली लेकिन इसके बावजूद वो विकेट पर डटे रहे. दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 82 रनों की साझेदारी की. मार्करम ने एल्गर के साथ मिलकर 47 रन जोड़े और फिर कीगन पीटरसन ने भी एल्गर के साथ 46 रनों की अहम साझेदारी की.

download bignews app
Follow us on google news
Follow us on google news

Related Articles

Back to top button