भारत

PM की सुरक्षा में चूक पर गृह मंत्रालय का बड़ा बयान आया सामने

नई दिल्ली – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बुधवार को पंजाब के फिरोजपुर में होने वाली रैली सुरक्षा कारणों में चूक के चलते रद्द करनी पड़ी थी. मामले में गृह मंत्रालय ने पंजाब पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया है. मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि प्रदर्शनों को लेकर खुफिया इनपुट थे, बावजूद इसके पंजाब पुलिस ने ‘ब्लू बुक’ नियमों का पालन नहीं किया.

विशेष सुरक्षा समूह (एसपीजी) की ब्लू बुक में प्रधानमंत्री की सुरक्षा से जुड़े दिशा-निर्देश दिए गए हैं. अधिकारी ने बताया, ‘ब्लू बुक के अनुसार, राज्य की पुलिस को किसी भी प्रतीकूल स्थिति, जैसी पंजाब में देखने को मिली, उस समय एक आकस्मिक मार्ग की तैयारी पहले से करके रखनी होती है.’ उन्होंने बताया कि इंटेलिजेंस ब्यूरो के अधिकारी लगातार पंजाब पुलिस के संपर्क में थे और उन्हें प्रदर्शनों के बारे में बता दिया था और पंजाब पुलिस ने भी पूरी सुरक्षा का आश्वासन दिया था (PM Security Breach Reasons). उन्होंने बताया कि एसपीजी के जवान पीएम के चारों ओर घेरा बनाकर रहते हैं लेकिन सुरक्षा के बाकी उपायों की जिम्मेदारी राज्य सरकार के हाथों में होती है. स्थिति में होने वाले बदलाव की जानकारी राज्य की पुलिस एसपीजी को देती है और उसी हिसाब से वीआईपी की गतिविधि बदली जाती है.

दरअसल पाकिस्तान (Pakistan) से लगने वाली पंजाब की सीमा पर साल 2021 में ड्रोन दिखने की 150 घटनाएं सामने आई हैं. जबकि कई घटनाएं दर्ज ही नहीं हुईं. कई ड्रोन ऐसे होते हैं, जिनपर बम, ग्रेनेड, पिसतौल जैसे हथियार लगे होते हैं. यानी ड्रोन से कहीं पर भी हमला किया जा सकता है. ऐसे में पीएम का काफिला करीब 15-20 मिनट तक पंजाब में फ्लाईओवर पर ही फंसा रहा. जिसपर सरकार ने नाराजगी जाहिर की है. गृह मंत्रालय ने अब पंजाब पुलिस से संबंधित स्थान पर सुरक्षा बलों, बैरिकेड की तैनाती और सुरक्षा को लेकर अपनाए गए दूसरे उपायों की जानकारी मांगी है. अधिकारी ने कहा, ‘सुरक्षा में हुई चूक के मामले में खुफिया एजेंसियों से रिपोर्ट मांगी गई है.’

download bignews app
Follow us on google news
Follow us on google news

Related Articles

Back to top button