खेलट्रेंडिंग

भारत के स्टार गेंदबाज को नहीं मिली टीम इंडिया में जगह और नाही रणजी ट्रॉफी में

नई दिल्ली – भारतीय गेंदबाज जयदेव उनादकट लंबे समय से टीम इंडिया में वापसी का इंतजार कर रहे हैं हालांकि अब उन्हें वह मौका नहीं मिला है. ऐसे में सोशल मीडिया पर एक बार फिर उनका दिल का दर्द छलक उठा. जयदेव उनाकट ने 19 साल की उम्र में साल 2010 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ सेंचुरियन के सुपरस्पोर्ट पार्क में टेस्ट डेब्यू किया था लेकिन वह फिर कभी वापसी नहीं कर पाए.

इस ट्वीट पर एक यूजर ने उनसे पूछा कि आप किस गति से गेंदबाजी करेगें तो जयदेव ने उसका जवाब भी दिया. जयदेव ने उसका जवाब देते हुए लिखा, ‘मैं उस पेस से गेंदबाजी करूंगा जिस पेस से मुझे राजकोट जैसी फ्लैट विकेट पर भी विकेट मिलते रहें.’

उनादकट को टेस्ट क्रिकेट की याद सता रही है और इसी वजह से उन्होंने रेड बॉल से एक खास विनती की है .सौराष्ट्र के इस गेंदबाज ने टेस्ट क्रिकेट की लाल गेंद की तस्वीर शेयर की और लिखा, ‘प्रिय लाल गेंद, कृप्या मुझे एक मौका दीजिए. मैं आपको गर्वित महसूस कराऊंगा, वादा है.’

जयदेव न तो टीम इंडिया में जगह बना पा रहे न ही अब वह फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेल पाएंगे. देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद फर्स्ट क्लास क्रिकेट के टूर्नामेंट रणजी ट्रॉफी को स्थगित कर दिया गया है. सौराष्ट्र मौजूदा रणजी ट्रॉफी की विजेता टीम है और उन्होंने 2019-20 में बंगाल को हराकर रणजी ट्रॉफी अपने नाम की थी. इसके पहले भी 2018-19 सीजन में सौराष्ट ने रणजी ट्रॉफी फाइनल में जगह बनाई थी.

download bignews app
Follow us on google news
Follow us on google news

Related Articles

Back to top button