Big news App
ट्रेंडिंगलाइफस्टाइल

हर हफ्ते दुल्हन बनती है पाकिस्तान की ये महिला

कराची – शौक बड़ी चीज होती है, कई लोग शौक के चक्कर में कुछ अजीबोगरीब चीजें करते हैं. लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि शौक के चक्कर में कोई महिला हर हफ्ते दुल्हन बन जाए. हम आज आपको एक ऐसी ही अजीबोगरीब शौक वाली महिला के बारे में बताने जा रहे हैं, जो पाकिस्तान में रहती है. पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में रहने वाली यह महिला हर शुक्रवार को सोलह श्रृंगार करके दुल्हन बन जाती है.

सबसे ज्यादा हैरानी वाली बात यह है कि महिला पिछले 16 सालों से ऐसा करती आ रही है. लोगों को जब इस महिला के अजीबोगरीब शौक के बारे में जानकारी हुई तो यह सुनकर वह दंग रह गए. इस महिला का नाम हीरा जीशान है. हीरा पाकिस्तान के लाहौर के पंजाब प्रांत में रहती हैं. इनकी उम्र 42 साल है. यह हर हफ्ते शुक्रवार के दिन सोलह श्रंगार करके दुल्हन की तरह सज जाती हैं. हीरा दुल्हन का जोड़ा पहनती हैं, हाथों और पैरों में मेहंदी लगाती हैं और शादी के गहने भी पहनती हैं. इसके बाद दिनभर वह शादी के जोड़े में रहती हैं.

हीरा जीशान ने खुद खुलासा किया कि वह ऐसा किसलिए करती हैं? उन्होंने बताया कि उनकी मां 16 साल पहले बहुत ज्यादा बीमार हो गई थीं. इसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाना पड़ा था. जब मां की तबियत बहुत खराब हुई तो मां ने अस्पताल में ही इच्छा जताई कि वह मरने से पहले अपनी बेटी की शादी करवाना चाहती हैं. जिस शख्स ने उनकी मां को खून दिया था, मां की अंतिम इच्छा पूरी करने के लिए उससे ही हीरा की शादी की बात की गई. मां की खुशी के लिए हीरा जीशान ने हामी भर दी.

हीरा बताती हैं कि अस्पताल में शादी के बाद उनकी विदाई रिक्शे में हुई थी. जिस दिन उनकी शादी थी, उस दिन उन्होंने ना तो कोई श्रृंगार किया था और ना ही तैयार हुई थीं. अपनी जिंदगी के सबसे अहम दिन दुल्हन के जोड़े में तैयार ना होना उनके लिए निराशा वाला था. हीरा जीशान ने बताया कि उनकी शादी के कुछ दिनों बाद ही अस्पताल में उनकी मां की मौत हो गई. अपने सिर पर से मां का साया उठ जाने के बाद उनको बहुत दुख हुआ था. वहीं शादी के बार हीरा जीशान को छह बच्चे हुए, जिसमें से दो बच्चे पैदा होते ही मर गए थे. इससे वह अवसाद में चली गई थीं. इस अवसाद से बाहर आने के लिए हीरा ने प्रत्येक शुक्रवार को दुल्हन की तरह सजने का फैसला किया.

हीरा ने बताया कि अस्पताल में जिससे उनकी शादी हुई थी, अभी वह लंदन में रहते हैं. जबकि वह बच्चों के साथ पाकिस्तान में रहती हैं. पति के दूर होने के कारण भी जब वह हर शुक्रवार को दुल्हन बनती हैं तो उन्हें काफी ज्यादा खुशी मिलती है. इससे उनका अकेलापन भी कटता है. इसलिए वह 16 सालों से ऐसा करती आ रही हैं.

download bignews app
Follow us on google news
Follow us on google news

Related Articles

Back to top button