Big news App
कोरोनाविश्व

क्या आप जानते है विश्व में कौन था कोरोना का पहला मरीज?

वाशिंगटन – चीन के वुहान से शुरू हुए इस भयावह महामारी कोरोना वायरस से जूझते जूझते एक साल से ज्यादा हो चुका है। पूरी दुनिया में इस महामारी की वजह से कई गंभीर परिस्थितियों का सामना करना पड़ा। अब तक 20 लाख से ज्यादा लोगों की जानें जा चुकी है। पूरी दुनिया के डॉक्टर्स अभी तक इस बीमारी को जड़ से ख़त्म करने की कोई भी दवा ढूंढ नहीं पाए है।

फ़िलहाल विश्व के सभी देश इस बात का पता लगाना चाहते है कि आखिर इस जानलेवा वायरस की शुरुआत कहां से हुई? कोरोना से संक्रमित होने वाला पहला शख्स कौन था? मगर चीन ने शुरू से ही इस पर अपना रवैया संदिग्ध रखा है। उसने आज तक दुनिया को इस बारे में सही-सही जानकारी नहीं दी। WHO की टीम भी सच का पता लगाने के लिए वुहान में है। वुहान पहुंची WHO की टीम यह जांच करना चाहती है कि आखिर यह वायरस इंसानों में कैसे आया। मगर चीन की ओर से उसकी जांच में भी बाधा डाली जा रही है। विशेषज्ञों का यह भी मानना है कि चीन ने जानबूझकर कोरोना के मामले छिपाए, जिस वजह से यह पूरी दुनिया में फैल गया। अगर वह समय रहते इस बारे में चेतावनी दे देता, तो देश खुद को तैयार कर लेते। मगर उसने ऐसा नहीं किया।

चीन ने जिस मरीज को कोविड का पहला मरीज बताया था, रिपोर्ट्स के मुताबिक वो पहल मरीज नहीं है। कोरोना वायरस का लक्षणयुक्त पहला ज्ञात मामला चीन के वुहान में एक होलसेल फूड मार्केट में एक महिला सीफूड विक्रेता का था। पहले ऐसी रिपोर्ट थी कि एक एकाउंटेंट कोविड से सबसे पहले पीड़ित हुआ था। एक नए स्टडी से यह पता चला है जिससे घातक बीमारी की उत्पत्ति की विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की जांच से संबंधित शुरुआती घटनाक्रम गलत साबित हो सकता है। प्रकाशित एक रिपोर्ट में एरिज़ोना यूनिवर्सिटी में इकोलॉजी एंड इवोल्यूशन बायोलॉजी के प्रमुख माइकल वोरोबे ने कहा कि एकाउंटेंट को व्यापक रूप से कोरोना वायरस से पीड़ित पहला व्यक्ति माना जाता था जिसने कहा था कि उसके पहले लक्षण 16 दिसंबर को दिखाई दिए।

WHO द्वारा चुने गए कोविड इन्वेस्टिगेटर्स में से एक सहित कई विशेषज्ञों ने कहा कि वोरोबे का रिसर्च अच्छा है और कोविड का पहला ज्ञात मामला सर्वाधिक संभावना के साथ सीफूड विक्रेता से जुड़ा मामला हो सकता है। बता दें कि जनवरी 2021 में WHO द्वारा चुने गए अनुसंधाकर्ताओं ने चीन का दौरा किया था और उस एकाउंटेंट से बात की थी जिसे दिसंबर में कोरोना वायरस संबंधी लक्षण हुए थे। इन इन्वेस्टिगेटर्स द्वारा मार्च 2021 में रिपोर्ट में एकाउंटेंट से जुड़े मामले को पहला ज्ञात मामला बताया गया था।

download bignews app
Follow us on google news
Follow us on google news

Related Articles

Back to top button