भारतविश्व

भारत की असरकारक कोविशील्ड और कोवैक्सीन को 96 देशो ने दी मान्यता


सरकारी योजना के लिए जुड़े Join Now
खबरें Telegram पर पाने के लिए जुड़े Join Now

नई दिल्ली – भारत के लिए अपनी स्वदेशी कोरोना वायरस पर काफी असरकारक साबित हुयी कोविशील्ड और कोवैक्सीन को लेकर बडी खबर सामने आ रही है। देश में पहले ही केंद्र सरकार की कोशिशों के परिणामस्वरूप 21 अक्टूबर, 2021 को खुराकों की संख्या 100 करोड़ की बड़ी उपलब्धि को पार कर चुकी है। 96 देशों ने टीकाकरण प्रमाणपत्रों की पारस्परिक मान्यता के लिए सहमति दी है, जिन्होंने पूरी तरह से कोविशील्ड/डब्ल्यूएचओ द्वारा अप्रूव्ड टीके लगवा चुके यात्रियों के भारतीय टीकाकरण प्रमाण पत्र को मान्यता दी है।

स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने इस बात की जानकारी देते हुए बताया की दुनियाभर के 96 देशोंने कोवैक्सीन और कोविशील्ड को मान्यता दी है। इन दोनों कोविड-19 टीकों कोविशील्ड और कोवैक्सीन को विश्व स्वास्थ्य संगठन से आपातकालीन उपयोग सूची (EUL) भी प्राप्त हुई है। डब्ल्यूएचओ ने अब तक ईयूएल में आठ टीकों को शामिल किया है। हमें खुशी है कि इनमें से दो भारतीय टीके है – कोवैक्सिन और कोविशील्ड। केंद्र के “हर घर दस्तक” मेगा टीकाकरण अभियान चलाने के लिए स्वास्थ्य कार्यकर्ता सभी घरों में जा रहे है। विदेश मंत्रालय के साथ स्वास्थ्य मंत्रालय सभी देशों के साथ निरंतर बातचीत में है ताकि परेशानी मुक्त अंतरराष्ट्रीय यात्रा की सुविधा के लिए वैक्सीन प्रमाणपत्रों की पारस्परिक मान्यता प्राप्त हो सके।

दोनों टीकों को मान्यता देने वाले देशों में 96 देशों में कनाडा, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, स्पेन, यूके, फ्रांस, जर्मनी, बेल्जियम, रूस और स्विट्जरलैंड शामिल है। 96 देशों से यात्रा करने वाले व्यक्तियों को 20 अक्टूबर, 2021 को जारी अंतरराष्ट्रीय अराइवल पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशानिर्देशों के अनुसार कुछ छूट प्रदान की जाती है। दिशानिर्देशों का लिंक  https://www.mohfw.gov.in/pdf/ है। जो लोग विदेश यात्रा करना चाहते है, वे अपना अंतरराष्ट्रीय यात्रा टीकाकरण प्रमाणपत्र कोविन पोर्टल से भी डाउनलोड कर सकते है।

download bignews app
download bignews app
Follow us on google news
Follow us on google news

Related Articles

Back to top button