भारत

BREAKING: डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सहित पांच दाेषियों को हुयी उम्रकैद की सजा

हरियाणा – फ़िलहाल हरियाणा से डेरा प्रमुख राम राहीम को लेकर बहोत बड़ी खबर सामने आ रही है। पंचकूला की सीबीआई अदालत ने 2002 में हुए मैनेजर रंजीत सिंह की हत्या मामले में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम और चार अन्य को 19 साल पहले 2002 में हुए डेरा के पूर्व प्रबंधक रंजीत सिंह की हत्या के मामले में दोषी करार दिया गया था।

डेरा के पूर्व प्रबंधक रंजीत सिंह की हत्या के मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह सहित पांच दोषियों को सोमवार को उम्रकैद की सजा सुनाई। इसके साथ ही गुरमीत राम रहीम पर 31 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है। उसे जुर्माने की 50 प्रतिशत राशि अभी अदा करनी होगी। बाकी दोषियों पर 50-50 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है। गुरमीत पर लगाए गए जुर्माने की आधी राशि पीड़ित परिवार को दी जाएगी। सभी दोषियों को विभिन्‍न धाराओं में सजा सुनाई गई है।

पंचकूला स्थित विशेष अदालत ने आठ अक्तूबर को राम रहीम, कृष्णलाल, जसबीर सिंह, अवतार सिंह और सबदिल को रंजीत हत्याकांड में दोषी करार दिया था। अदालत द्वारा सजा सुनाए जाने के बाद वकीलों ने मीडिया को इसके बारे में जानकारी दी। रंजीत सिंह के पुत्र जगसीर सिंह ने फैसले को पर संतोष जताते हुए इसे सराहनीय बताया। सीबीआइ ने गुरमीत राम रहीम को फांसी की सजा देने के मांग की थी, लेकिन अदालत ने उसे उम्रकैद की सजा सुनाई। दूसरी ओर, गुरमीत राम रहीम के वकील अजय वर्मन ने कहा कि वह इस फैसले को पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट में चुनौती देंगे।

रंजीत सिंह की दस जुलाई 2002 को कुरुक्षेत्र के खानपुर कोलियां गांव में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। एक अज्ञात पत्र के प्रसार में संदिग्ध भूमिका के चलते उसकी हत्या हुई थी। इससे पहले जज कोर्ट रूम में पहुंचे और दोषियों को भी कोर्ट रूम में बुला लिया गया। इससे पहले सजा को लेकर कोर्ट में सुनवाई पूरी हो गई। फैसला आने के चलते पंचकूला जिला प्रशासन ने सुबह से ही पूरे शहर में धारा 144 लागू की थी। पुलिस ने सुनवाई से पहले पंचकूला और सिरसा में सुरक्षा कड़ी कर दी थी, जहां इस संप्रदाय का मुख्यालय है। सीबीआइ के वकील ने गुरमीत राम रहीम को फांसी की सजा सुनाने की मांग की। कोर्ट रूम के बाहर सुरक्षा बेहद कड़ी कर दी गई और भारी संख्‍या में पुलिसकर्मी व अर्द्ध सुरक्षा बलों के जवान तैनात कर दिए गए।

रंजीत सिंह के बेटे जगसीर सिंह ने कहा कि यह परिवार के लिए एक बड़ा दिन है क्योंकि उन्हें लंबे इंतजार के बाद न्याय मिला है। जगसीर, जो अपने पिता की हत्या के समय आठ साल का था। हालांकि उसका परिवार राम रहीम सिंह के लिए मौत की सजा की मांग कर रहा था। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम सिंह अभी सुनारिया जेल में बंद है। उसे दो मामलों में सजा सुनाई गई है। डेरा प्रमुख को अगस्त 2017 में अपनी दो महिला अनुयायियों से बलात्कार और एक पत्रकार की हत्या के मामले में 20 साल कैद की सजा सुनाई गई थी। और दूसरा रामचंद्र प्रजापति नाम के एक शख्स की हत्या से जुड़ा है। जिसमें गुरमीत राम रहीम को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है।

Back to top button