Big news App
विश्व

Afghanistan : दूसरे सबसे बड़े शहर कंधार पर तालिबान का कब्जा, राजधानी पहुंचने के लिए अब केवल 500 किलोमीटर दूर

कंधार – अफगानिस्तान में तालिबान और सेना के बीच संघर्ष चल रहा है। अफगान सेना के लिए अब तालिबान को रोकना लगभग नामुमकिन सा होता जा रहा है। इस बीच गुरुवार को तालिबान ने दावा किया है कि उसने दक्षिणी शहर कंधार पर कब्जा कर लिया है। ये अफगानिस्तान की 34 में से 12वीं प्रांतीय राजधानी है, जिसे विद्रोहियों ने अपने हफ्ते भर के हमले में लिया है। कंधार पूरे देश का दूसरा सबसे बड़ा शहर भी है।

अब सिर्फ राष्ट्रीय राजधानी काबुल उससे बची हुई है। जो कि कंधार से केवल 500 किलोमीटर ही दूर है। इस तरह से अफगानिस्तान में तालिबान की पकड़ धीरे-धीरे मजबूत होती जा रही है। अब तालिबानियों का अगला टारगेट काबुल ही होगा। कंधार पर कब्जा करने से पहले गुरुवार को तालिबान ने दो और प्रांतीय राजधानी गजनी और हेरात पर कब्जा कर लिया था। इस तरह से आतंकवादी संगठन अब तक 12 प्रांतीय राजधानियों पर कब्जा कर चुका है। गजनी में उग्रवादियों ने श्वेत झंडे फहराए। दो स्थानीय अधिकारियों ने बताया कि शहर के बाहर स्थित एक सैन्य प्रतिष्ठान और खुफिया ठिकाने पर छिटपुट लड़ाई अब भी चल रही है। तालिबान की ओर से ऑनलाइन वीडियो और तस्वीरें डाली गईं, जिनमें उसके लड़ाके गजनी प्रांत की राजधानी गजनी में नजर आ रहे हैं।

काबुल अभी सीधे तौर पर खतरे में नहीं है, लेकिन कब्जा करने के साथ ही तालिबान की पकड़ और मजबूत होती जा रही है। अनुमान है कि तलिबान का अब देश के दो-तिहाई हिस्से पर कब्जा है। इससे पहले बुधवार को तालिबान के लड़ाकों ने अफगान सेना को घुटनों पर लाते हुए कुंदुज प्रांत के भी अधिकतर हिस्से पर कब्जा जमा लिया था। वहीं अफगानिस्तान में बिगड़ते हालातों को संभालने के लिए कतर में बातचीत हो रही है, जहां अफगान सरकार की ओर से पेश हुए वार्ताकारों ने तालिबान को लड़ाई खत्म करने के बदले एक बड़ा ऑफर दिया है, जिसके तहत सत्ता के बंटवारे की बात कही गई है।

अब तक इन पर कब्जा –
1. जरांज
2. शेबरगान
3.सर-ए-पुल
4. कुंदुज
5. तालोकान
6. ऐबक
7. फराह
8. पुल ए खुमारी
9. बदख्शां
10. गजनी
11. हेरात
12. कंधार

download bignews app
Follow us on google news
Follow us on google news

Related Articles

Back to top button