भारत

केंद्र सरकार ने वापस लिया छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर घटाने का फैसला

नई दिल्ली – केंद्र सरकार ने छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर में कटौती करने का फैसला वापस ले लिया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने ट्वीट कर ये जानकारी दी है। इस ट्वीट के बाद करोड़ों लोगो ने राहत की सांस ली है। बुधवार रात ही खबर आई थी कि फाइनेंशियल ईयर 2021 22 की पहली तिमाही के लिए छोटी बचत योजनाओं पर बयाज दर घटा दी गई है, लेकिन अब ये फैसला वापस ले लिया गया है।

वित्त मंत्री ने अपने ट्वीट में कहा कि भारत सरकार की छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरें पहली जैसी बनी रहेंगी, जो 2020-2021 की अंतिम तिमाही में मौजूद थीं यानी मार्च 2021 वाली दरें ही लागू रहेंगी।

भारत सरकार की लघु बचत योजनाओं की ब्याज दरें उन दरों पर बनी रहेंगी, जो 2020 2021 की अंतिम तिमाही में मौजूद थीं, यानी मार्च 2021 तक लागू होने वाली दरें। इन योजनाओं में किसान विकास पत्र (KVP), वरिष्‍ठ नागर‍िक बचत योजना (SCSS), पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) एवं सुकन्या समृद्धि योजना शामिल हैं।

– सुकन्या समृद्धि योजना पर मिलने वाले ब्याज को सरकार ने 7.6 फीसदी से घटाकर 6.9 फीसदी कर दिया गया था। जो अब पहले की तरह ही रहेंगी।

– सरकार ने पीपीएफ पर दिए जाने वाले ब्याज में 70 बेसिस प्वाइंट की कटौती के बाद नई दर 6.4 फीसदी हो गई थी, जो पहले 7.1 फीसदी हुआ करती थी।

– केंद्र सरकार ने सीनियर सिटीजंस सेविंग स्कीम पर मिलने वाले ब्‍याज को 7.4 फीसदी से घटाकर 6.5 फीसदी कर दिया था।

Back to top button